एडवांस्ड सर्च

होली खेलने के बाद इन 5 लक्षणों को ना करें नजरअंदाज

होली रंगों का त्योहार है. रंगों की वजह से ही लोग इस त्योहार को बहुत पसंद करते हैं. इस मौके पर लोगों का उत्साह देखते ही बनता है. सभी गिले-शिकवे दूर कर के लोग एक दूसरे को रंग लगाते हैं और गले मिलते हैं. रंगों के जितने फायदे हैं उतने ही नुकसान भी हैं.

Advertisement
aajtak.in
रोहित नई दिल्ली, 01 March 2018
होली खेलने के बाद इन 5 लक्षणों को ना करें नजरअंदाज रंग

होली रंगों का त्योहार है. रंगों की वजह से ही लोग इस त्योहार को बहुत पसंद करते हैं. इस मौके पर लोगों का उत्साह देखते ही बनता है. सभी गिले-शिकवे दूर कर के लोग एक दूसरे को रंग लगाते हैं और गले मिलते हैं. रंगों के जितने फायदे हैं उतने ही नुकसान भी हैं.

आजकल हर छोटी से बड़ी चीजों में मिलावट की जाती है. त्योहारों के दौरान मिठाइयों में और दूध से बनी अन्य चीजों में भारी मात्रा में मिलावट की जाती है. इसी तरह रंगों में भी कई सारे ऐसे केमिकल मिलाए जाते हैं जो हमारे शरीर के लिए नुकसानदेह साबित हो सकते हैं.

ताकत और पोषण का खजाना है ये फल

अगर होली खेलने के बाद ये पांच लक्षण दिखें तो सावधान हो जाएं-

1- रंगों से खेलने के बाद अगर आप अपनी आंखों में खुजली या जलन महसूस कर रहे हैं तो हो सकता है आपकी आंखों में रंग चला गया हो. ठंडे पानी से आंखों को अच्छे से धोएं.  अगर समस्या फिर भी ठीक नहीं होती है तो फोरन डॉक्टर से संपर्क करें.

2- कई बार ऐसा देखा गया है कि रंगों से खेलने के बाद काफी समय तक आपके बदन में जगह-जगह पर खुजली होती रहती है. कभी-कभी ये कुछ समय में अपने आप ही ठीक हो जाती है पर अगर लगातार ऐसा हो रहा है तो ये चिंता का विषय है.

3- धूप में ज्यादा देर तक रंगों से खेलने पर आपको कमजोरी का एहसास भी हो सकता है और चक्कर भी आ सकता है.

शादी के बारे में ये बातें छुपाते हैं आपके माता-पिता

4- होली में मस्ती के दौरान कई बार तबियत इतनी बिगड़ जाती है कि अचानक से उल्टी आनी शुरू हो जाती है.ऐसे में सावधानी बरतें.

5- रंगों से खेलते वक्त अक्सर लोगों को अपने शरीर की सुध नहीं रहती है. ज्यादा देर तक पानी में रहने के कारण वो बीमार भी पड़ सकते हैं. इस दौरान उन्हें तेज बुखार या सर्द-गर्म की वजह से जुकाम भी हो सकता है.

बता दें कि रंगों का असर हर आदमी पर अलग-अलग ढंग से हो सकता है. किसी को इससे एलर्जी नहीं होती है, किसी को कम होती है, तो किसी को ज्यादा. अगर किसी को ऊपर दिए गए लक्षणों में से कोई परेशानी हो रही है तो इसे नजरअंदाज करने के बजाए आप फौरन पास के अस्पताल में जा कर अपना इलाज कराएं. इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा हर्बल रंगों से खेलने की कोशिश करें और केमिकलयुक्त रंगों से खेलने से बचें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay