एडवांस्ड सर्च

प्रेग्नेंसी: सस्ता मेकअप मां और बच्चे दोनों पर डालता है बुरा असर

अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान बिना ब्रांड के सस्ते मेकअप का इस्तेमाल करती हैं तो संभल जाईए. ये आपके होने वाले बच्चे को बीमार बना सकता है. 

Advertisement
aajtak.in
प्रज्ञा बाजपेयी 02 May 2018
प्रेग्नेंसी: सस्ता मेकअप मां और बच्चे दोनों पर डालता है बुरा असर प्रेग्नेंसी में ना करें मेकअप के सस्ते सामान का इस्तेमाल

अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान बिना ब्रांड के सस्ते मेकअप का इस्तेमाल करती हैं तो संभल जाइए. ये आपके होने वाले बच्चे को बीमार बना सकता है. 

दरसल 'किंग जोर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी' के शोध के मुताबिक', आपके चेहरे पर लगा सस्ता मेकअप आपको और आपके होने वाले बच्चे को बीमार बना सकता है. अगली बार सस्ती लिप्सटिक, नेलपॉलिश, क्रीम लेते समय अपनी और अपने होने वाले बच्चे की सेहत के बारे में ज़रूर सोचें.

शोध के मुताबिक, सस्ते मेकअप में लेड और कैल्शियम की मात्रा बहुत होती है. जो मां और बच्चे दोनो के लिए ही हानिकारक होती है. ऐसा मेकअप इस्तेमाल करने से बच्चे के जींस पर भी असर पड़ता है. 18 से 35 की उम्र तक महिलाओं के जींस में बदलाव होते रहते हैं. इस उम्र में महिलाओं में सहने की क्षमता होती है. सस्ता मेकअप महिलाओं पर उतनी जल्दी असर नहीं डालता जितना बच्चों के लिए हानिकारक होता है. सस्ता मेकअप लगाने से आपका बच्चा क्लब फू़ट जैसी बिमारी का शिकार हो सकता है. ये बीमारी होने से बच्चे के पैर टेढ़े मेढ़े हो जाते हैं. न सिर्फ मेकअप लगाने से बल्कि पेंट, चारकोल, खिलौनो में लगी बैटेरी से भी बच्चों को क्लब फूट और अर्थराइटिस जैसी बीमारियां हो जाती है.

ये शोध करीब 200 बच्चों और उनकी मां पर किए गए. इस शोध में पाया गया कि इन सभी प्रोडक्ट में मेटल की मात्रा बहुत ज्यादा होती है. इसी वजह से बच्चे जेनेटिक बीमारियों के शिकार होते हैं. सस्ते मेकअप और पेंट, चारकोल जैसे मेटल रहित प्रोडक्ट आप और आपके बच्चों को बीमार बना रहे हैं.    

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay