एडवांस्ड सर्च

डाईबिटीज-हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए ज्यादा खतरनाक कोरोना वायरस

एक हालिया रिपोर्ट में शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि कोरोना वायरस से डाईबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए ज्यादा खतरनाक है. इस जानलेवा वायरस के चलते भारत में अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 27 March 2020
डाईबिटीज-हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए ज्यादा खतरनाक कोरोना वायरस इस जानलेवा वायरस के चलते अब 8 लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना वायरस के भारत में अब तक 400 से भी ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. इस जानलेवा वायरस के चलते अब 8 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, एक हालिया रिपोर्ट में शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि कोरोना वायरस से डाईबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए ज्यादा खतरनाक है.

'द लैंसेट' में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, जिन लोगों को डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत है उन्हें कोरोना वायरस से ज्यादा संभलकर रहने की जरूरत है. रिपोर्ट में बताया गया है, ऐसी बीमारियों में रोगी को जो ड्रग दिया जाता है उसे ACE (एंजियोटेंसिन कन्वर्टिंग एंजाइम) कहते हैं. इस ड्रग का असर इंसान की कोशिकाओं पर पड़ता है.

वैज्ञानिकों का दावा है कि ड्रग से कोशिकाओं में बदलाव आने के बाद कोरोना वायरस के लिए हमला करना आसान हो जाता है. पूरी दुनिया में हर साल करोड़ों लोग डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर से बचने के लिए इन दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं.

यदि डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के पीड़ित हैं तो आपके मन में ये सवाल जरूर उठ रहा होगा कि क्या आपको इस ड्रग का सेवन बंद कर देना चाहिए? इस पर हेल्थ विशेषज्ञों का कहना है कि बिना डॉक्टर्स की सलाह के दवाइयां बंद करने की जरूरत नहीं है.

भारत में भी जिन लोगों की मौत इस जानलेवा वायरस के चलते हुई है उनकी उम्र काफी ज्यादा थी. साथ ही, दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में दम तोड़ने वाली महिला को तो डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर का मरीज भी बताया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay