एडवांस्ड सर्च

Advertisement

प्रेग्नेंसी के दौरान शुगर होने से बच्चे को हो सकती है ये गंभीर बीमारी

एक स्टडी में यह बताया गया है कि प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में जिन महिलाओं का ब्लड शुगर लेवल ज्यादा होता है उन महिलाओं के गर्भ में पल रहे बच्चे को जन्म से ही दिल की बीमारी हो सकती है.
प्रेग्नेंसी के दौरान शुगर होने से बच्चे को हो सकती है ये गंभीर बीमारी प्रेग्नेंसी
aajtak.in [Edited By: नेहा फरहीन]नई दिल्ली, 19 December 2017

एक स्टडी में सामने आया है कि प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में जिन महिलाओं का ब्लड शुगर लेवल ज्यादा होता है उन महिलाओं के गर्भ में पल रहे बच्चे को जन्म से ही दिल की बीमारी हो सकती है. हालांकि यह बात पहले भी साबित हो चुकी है कि गर्भावस्था के दौरान डायबिटीज होने से बच्चे में दिल की बीमारी हो सकती है.

'पेडिएट्रिक जर्नल' में प्रकाशित इस स्टडी कि रिपोर्ट में एक नई बात यह सामने आई है कि जिन महिलाओं को प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में डायबिटीज नहीं होती है उनके बच्चे में भी जन्म से ही दिल की बीमारी हो सकती है.

कैलिफोर्निया के 'स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी' के सहायक प्रोफेसर जेम्स प्रीस्ट का कहना है कि जिन महिलाओं को जन्मजात हृदय रोग वाला बच्चा होता है, वो सभी डायबटिक नहीं होती हैं.

प्रेग्नेंसी में भूलकर भी ना करें ये काम, हो सकता है खतरा

इस बात को लेकर सामने आए परिणामों की माने तों, प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में ब्लड में ग्लूकोज के स्तर में हर 10 मिलीग्राम प्रति डेसीलीटर के बढ़ने के चलते जन्म से ही हार्ट डिफेक्ट के साथ पैदा होने वाले बच्चे को जन्म देने का जोखिम 8 प्रतिशत बढ़ जाता है.

शोधकर्ताओं के मुताबिक, चाहें महिला पहले से ही डायबिटीज की शिकार हो या प्रेग्नेंसी के दौरान हुई हो, अगर उनमें प्रेग्नेंसी के पहले तीन महीनों में ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है तो बच्चे में जन्मजात हृदय रोग होने की संभावना सबसे ज्यादा होती है.

इस स्टडी में करीबन 19,107 महिलाओं और उनके बच्चों की मेडिकल रिपोर्ट को एग्जामिन किया गया है. जो साल 2009 से 2015 के बीच जन्में हैं. इसमें मां और बच्चे की ब्लड टेस्ट रिपोर्ट की जांच की गई. साथ ही यह भी देखा गया कि प्रेग्नेंसी के दौरान या इसके बाद बच्चे में दिल से जुड़ी कोई भी परेशानी सामने आई या नहीं.

प्रेगनेंसी के बाद बढ़े पेट को इन 6 उपायों से करें कम

इस स्टडी का उद्देश्य महिलाओं में प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में बढ़ते ब्लड ग्लूकोज के कारण उनके बच्चे को एक गंभीर बीमारी होने के खतरे के बारे में जागरूक करना है. जिससे वो इस बात का पता लगा सकें कि प्रेग्नेंसी के दौरान बढ़ते ब्लड ग्लूकोज की वजह से उनके बच्चे में जन्मजात हृदय रोग होने की कितनी आशंका होती है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay