एडवांस्ड सर्च

Advertisement

इस उम्र में मां बनना हो सकता है खतरनाक, जानें क्या है सही वक्त?

बच्चे को जन्म देने का एक सही समय होता है और उसी को ध्यान में रखकर आपको बच्चे के जन्म के बारे में विचार करना चाहिए.
इस उम्र में मां बनना हो सकता है खतरनाक, जानें क्या है सही वक्त? मां बनने का सही वक्त
aajtak.in [Edited By: प्रज्ञा]नई दिल्ली, 06 February 2018

मां बनने के एहसास से बेहतर इस दुनिया में कोई एहसास नहीं है लेकिन मां बनने को लेकर महिलाओं को कई तरह की उलझनों का सामना करना पड़ता है. कई महिलाओं के भीतर होने वाले बच्चे को लेकर तमाम तरह की आशंकाएं और डर जन्म ले लेते हैं. अक्सर देखा जाता है कि ज्यादातर दंपती अपने बच्चे को दुनिया में लाने से पहले कई तरह के विचार करते हैं. क्योंकि उन्हें लगता है कि नन्हें मेहमान को तभी इस दुनिया में लाना चाहिए जब वो उसकी जिम्मेदारी उठाने कें लिए पूरी तरह से तैयार हो जाएं. ताकि वो बच्चे को एक बेहतर जीवन दे सकें. लेकिन बता दें कि, बच्चे को जन्म देने का एक सही समय होता है और उसी को ध्यान में रखकर आपको बच्चे के जन्म के बारे में विचार करना चाहिए. आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि शादी के कितने समय बाद एक दंपती को बच्चे को जन्म देना चाहिए. जिससे आप और बच्चा सेहतमंद रहे.

मां बनने के लिए महिला का कम से कम 20 साल का होना जरूरी होता है. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) के मुताबिक, दुनियाभर में दूसरे नंबर पर 15 से 19 साल की लड़कियों की मौत गर्भावस्था में होने वाली जटिल स्थिति के कारण होती है. इसके अलावा 20 साल की उम्र से पहले मां बनने वाली महिलाओं के बच्चे में जन्म के समय मृत्यु होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है.

प्रेगनेंसी में भूलकर भी ना करें ये काम, हो सकता है खतरा

अगर आपकी शादी 25 की उम्र में होती है, तो आप शादी के तुरंत बाद ही बच्चे को जन्म देने की प्लानिंग कर सकते हैं. बच्चे को जन्म देने के लिए यह सबसे परफेक्ट उम्र होती है. कंसीव करने के लिए 25 की उम्र महिलाओं के साथ पुरुषों के लिए भी सबसे बेस्ट होती है. क्योंकि इस उम्र में स्पर्म सबसे ज्यादा फ्रेश और मैच्योर होता है.

अधिकतर दंपती, बच्चे को जन्म देने के लिए 30 की उम्र होने का इंतजार करते हैं. क्योंकि उन्हें लगता है कि 30 की उम्र बच्चे को जन्म देने के लिए सबसे परफेक्ट होती है. लेकिन ऐसा नहीं है, दरअसल, 30 की उम्र में महिलाओं में फर्टिलिटी का स्तर कम होने लगता है. जिस कारण एक साल के अंदर ही उनकी मां बनने की क्षमता लगभग एक चौथाई कम होने लगती है. हालांकि पुरुषों के स्पर्म की क्वालिटी काफी हद तक उनकी जीवनशैली पर भी निर्भर करती है. अल्कोहल और स्मोक करने वाले पुरुषों में स्पर्म की क्वालिटी जल्दी खराब होने लगती है.

बॉयफ्रेंड से शादी ने बदलकर रख दी मेरी जिंदगी!

अगर आपकी शादी 30 से 35 साल की उम्र में होती है तो बिना देरी करे ही आपको बच्चे को जन्म देने के बारे में विचार कर लेना चाहिए. क्योंकि 30 के बाद गर्भ धारण करने की क्षमता कुछ हद तक कम हो जाती है. एक स्टडी में ये सामने आ चुका है कि ज्यादा उम्र होने के कारण पुरुषों का स्पर्म उतना ज्यादा फिट नहीं होता है. जिस वजह से बच्चे में कई गंभीर बीमारी होने का खतरा रहता है.

35 से 40 की उम्र में बच्चे को जन्म देने से बच्चे को स्वास्थ्य से जुड़ी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. जिसमें सबसे ज्यादा ऑटिज्म होने का खतरा रहता है. साथ ही महिलाओं में गर्भपात होने की संभावना भी सबसे ज्यादा रहती है.

अगर आप 45 की उम्र में बच्चे को जन्म देने के बारे में सोच रहे हैं तो जरा ठहर जाइए. बता दें कि, 45 की उम्र वाली महिलाओं से जन्में बच्चे की हेल्दी होने की संभावना 1 फीसदी तक कम हो जाती है. साथ ही गर्भावस्था को दौरान महिलाओं में गेस्टेशनल डायबिटीज और हाइरपटेंशन का स्तर काफी हद तक बढ़ जाता है. इसके साथ ही 45 की उम्र वाली महिलाओं से जन्म लेने वाली लड़कियों में ऑटिज्म के अलावा ब्रेस्ट कैंसर और कद छोटा रहने की आशंका ज्यादा रहती है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay