एडवांस्ड सर्च

गर्भवती होने से पहले इन बातों की जांच करा लेना है बहुत जरूरी

फैमिली प्लान करने से पहले ये तय कर लेना चाहिए कि महिला का शरीर बच्चे को 9 महीने तक गर्भ में पालने के लिए तैयार हो. अगर शरीर इसके लिए पूरी तैयार नहीं होगा तो इससे बच्चे के विकास पर असर पड़ सकता है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited by: भूमिका राय]नई दिल्ली, 21 August 2015
गर्भवती होने से पहले इन बातों की जांच करा लेना है बहुत जरूरी important check up before getting pregnant

इससे पहले की आप अपने परिवार की प्लानिंग करें, ये सुनि‍श्च‍ित कर लेना बहुत जरूरी है कि मां बनने के लिए आप शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार हों. गर्भवती होना किसी भी महिला के जीवन के सबसे सुखद क्षणों में से एक होता है लेकिन कुछ महत्वपूर्ण बातों की अनदेखी इस सुखद क्षण को परेशानी में भी बदल सकती है.

फैमिली प्लान करने से पहले आपको ये तय कर लेना चाहिए कि आपका शरीर बच्चे को नौ महीने तक गर्भ में पालने के लिए तैयार हो. अगर आपका शरीर इसके लिए पूरी तैयार नहीं होगा तो इससे बच्चे के विकास पर असर पड़ सकता है;

गर्भवती होने से पहले ही महिला को फॉलिक एसिड और आयरन लेना शुरू कर देना चाहिए ताकि एनिमिया होने का खतरा कम रहे. इसके साथ ही थायरॉयड के फंक्शन की भी जांच करा लेनी चाहिए. स्वास्थ्य को लेकर आश्वस्त होना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि इससे गर्भपात होने का खतरा कम हो जाता है.

फैमिली प्लान करने से पहले महिला को इन पांच बातों की जांच जरूर करा लेनी चाहिए:

1. डेंटल चेकअप
अगर आप मां बनने की प्लानिंग कर रही हैं तो आपको उससे पहले किसी डेंटिस्ट के पास जरूर चले जाना चाहिए. दांत से जुड़ी हर तरह की समस्या का निवारण हो जाना बेहतर होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि एकबार गर्भवती हो जाने के बाद आप एंटी-बायो‍टिक्स और पेन-किलर नहीं ले पाएंगी जिससे आपको और आपके बच्चे को परेशानी हो सकती है.

2. ब्लड ग्रुप
गर्भवती होने से पहले आपको अपना ब्लड ग्रुप चेक करवा लेना चाहिए. अगर आपको अपना ग्रुप पहले से ही पता है तो अपने पार्टनर के ब्लड ग्रुप के साथ उसकी कंपैटिबिलिटी भी चेक कर लेनी चाहिए.

3. थायरॉयड चेकअप
फैमिली की प्लानिंग करने वाली महिला को अपनी थायरॉयड ग्लैंड की भी जांच करा लेनी चाहिए. हो सकता है कि महिला के खून में थायरॉयड की कमी हो. आपको बता दें कि बच्चे के मानसिक विकास के लिए ये हॉर्मोन बेहद जरूरी होता है. थायरॉयड की समस्या के चलते गर्भपात होने की आशंका भी बढ़ जाती है.

4. तनाव की जांच
अगर महिला किसी प्रकार के तनाव और उदासी से जूझ रही है तो उसे काउं‍सलर के पास जाना चाहिए. गर्भावस्था में तनाव और घबराहट सही नहीं है. ऐसे में गर्भवती होने से पहले ही इसका निवारण हो जाना चाहिए.

5. हीमग्लोबिन की जांच
फैमिली प्लान करने से पहले महिला को हीमग्लोबिन की जांच जरूर से करा लेनी चाहिए. गर्भवती होने से पहले ही महिला को विटामिन बी12 और फोलिक एसिड का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay