एडवांस्ड सर्च

एग्‍जाम टाइम में स्ट्रेस को कहें बाय-बाय

एग्‍जाम टाइम की शुरुआत हो चुकी है, यह समय सिर्फ स्‍टूडेंट्स के लिए ही नहीं पैरेंट्स के लिए भी स्‍ट्रेसफुल होता है. लेकिन इस स्‍ट्रेस को रुटीन में थोड़ा-सा ध्‍यान रखकर कम किया जा सकता है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited By: ऋचा मिश्रा]नई दिल्‍ली, 25 February 2015
एग्‍जाम टाइम में स्ट्रेस को कहें बाय-बाय Student

एग्‍जाम टाइम की शुरुआत हो चुकी है, यह समय सिर्फ स्‍टूडेंट्स के लिए ही नहीं पैरेंट्स के लिए भी स्‍ट्रेसफुल होता है. लेकिन इस स्‍ट्रेस को रुटीन में थोड़ा-सा ध्‍यान रखकर कम किया जा सकता है.

चिंता को कहें बॉय: एग्‍जाम की टेंशन में सबसे ज्‍यादा पैरेंट्स को शिकायत होती है बच्‍चे में गैस की समस्‍या को लेकर, ऐसे में आप अपने बच्‍चे को स्‍ट्रेस फ्री माहौल देने की कोशिश्‍ा करें. बच्‍चे को तैयारी करने पर ध्‍यान देने की हिदायत दें न कि एग्‍जाम में कैसा प्रदर्शन करना है इसकी ओर ज्‍यादा ध्‍यान दें.

डोंट मिस ब्रेकफास्‍ट: ब्रेकफास्‍ट आपको दिमाग और शरीर दोनों से चुस्‍त-दुरुस्‍त रखनें में हेल्‍प फुल होता है. इसलिए उसे लेना बिल्‍कुल न भूलें.

समय पर सोना: early to bed का फार्मूला हमेशा अपनाएं और पूरी नींद लें. एग्‍जाम के दौरान अक्‍सर भूलनें की समस्‍या आती है, जिसकी वजह नींद पूरी तरह नहीं लेना होता है. पैरेंट्स भी इस बात का खास ख्‍याल रखें कि बच्‍चे नींद लेने में कोई कोताही नहीं बरतें.

चाय-कॉफी से रहें दूर: कैफीन लेना एग्‍जाम टाइम रात में जागकर पढ़ने में मदद कर सकता है लेकिन इसका असर अच्‍छा नहीं होता. लिहाजा इसे लेने से जितना बचें उतना बेहतर है.

फास्‍ट फूड को कहें न: फास्‍ट फूड स्‍टूडेंट्स की फेवरेट लिस्‍ट में आते हैं लेकिन एग्‍जाम टाइम में बिना बीमार पड़े एग्‍जाम देना चाहते है तो फास्‍टफूड से दूरी बनाकर रखें. इन्‍हें न खाने की एक वजह यह भी है कि इसे लेने के बाद आप शरीर में आलस महसूस करते हैं और पढ़ाई करने और किसी चीज को याद रखने में परेशानी होती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay