एडवांस्ड सर्च

गाजियाबाद के जिला जज और जेलर को सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब

हत्या के एक मामले में नाबालिग को आजीवन कारवास की सजा दिए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने गाजियाबाद के जिला जज और जेलर को 26 अगस्त के लिए तलब किया है.

Advertisement
aajtak.in
अहमद अजीम नई दिल्ली, 16 August 2016
गाजियाबाद के जिला जज और जेलर को सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब 26 अगस्त तक हाजिर होने के आदेश

हत्या के एक मामले में नाबालिग को आजीवन कारवास की सजा दिए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने गाजियाबाद के जिला जज और जेलर को 26 अगस्त के लिए तलब किया है. सेशन कोर्ट, हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा बरकरार रखी थी.

नाबालिग की तरफ से दायर याचिका में कहा गया है कि 1997 में गाजियाबाद में रेलवे स्टेशन के पास हुई हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था, उस वक्त उसकी उम्र 12 साल थी. याचिका में नाबालिग के उम्र के संबंध में जेलर द्वारा जारी किए गए सर्टिफिकेट का हवाला देते हुए रिहा करने की मांग की गई है, याचिका के मुताबिक नाबालिग 11 साल से जेल में बंद है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay