एडवांस्ड सर्च

उत्तराखंड: भारी बारिश से 8 लोगों की मौत, 48 घंटे के लिए अलर्ट जारी

नदी के रूप में पानी शहर की उन आवासीय कॉलोनियों में बहने लगा जिन्हें बेहद पॉश माना जाता रहा है, पॉश कॉलोनियों के घरों और सड़कों को मात्र 2 घंटे की बारिश ने समुद्र में तब्दील कर दिया.

Advertisement
दिलीप सिंह राठौड़ [Edited by: सना जैदी]देहरादून, 11 July 2018
उत्तराखंड: भारी बारिश से 8 लोगों की मौत, 48 घंटे के लिए अलर्ट जारी प्रतीकात्मक तस्वीर

बारिश ने उत्तराखंड के पहाड़ों से लेकर मैदानों तक परेशानी के हालात पैदा कर दिए हैं, जहां पहाड़ों पर बारिश ने भूस्खलन की घटनाओं को पुनः जीवित कर तमाम सड़कों को बाधित कर दिया है तो वहीं राजधानी देहरादून में अमूमन सभी सूखी पड़ी नदियों ने उफान लेना शुरू कर दिया. रियाहशी इलाकों में जगह-जगह पानी पानी भर गया और मकानों की दीवारे ढह गई.

देहरादून शहर जिसे स्मार्ट सिटी के लिए तैयार किए जाने को लेकर बाकायदा एक विभाग बनाया गया है. नदी के रूप में पानी शहर की उन आवासीय कॉलोनियों में बहने लगा जिन्हें बेहद पॉश माना जाता रहा है, पॉश कॉलोनियों के घरों और सड़कों को मात्र 2 घंटे की बारिश ने समुद्र में तब्दील कर दिया.

इस घनघोर बारिश से अब तक 8 लोग अपने जीवन से हाथ धो बैठे हैं, हालांकि प्रशाशन ने अभी तक सिर्फ 7 लोगों की मौत होने की पुष्टि की है. जबकि एक शख्स लापता बताया जा रहा है. सिर्फ देहरादून ही नहीं बल्कि प्रदेश के अधिकतर पहाड़ी जिले बारिश के इस प्रकोप को झेल रहे हैं. केदारनाथ के लिनचोली में पैदल मार्ग के टूट जाने की वजह से एसडीआरएफ ने तमाम यात्रिओं को जान जोखिम में डालकर रास्ता पार करवाया. फिलहाल मौसम विभाग ने अभी 48 घंटे की भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया है, जिसके बाद लोगों के बीच डर पैदा हो गया है. अगर 2 घंटे की बारिश से इतनी तबाही मच सकती है तो 48 घंटे की बारिश कैसे प्रदेश को तबाही की एक नई तस्वीर दिखा सकती है, इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay