एडवांस्ड सर्च

उत्तराखंड: चंद पैसों के लिए मासूम को चुराया, आरोपियों तक ऐसे पहुंची पुलिस, 3 गिरफ्तार

पुलिस ने रंजना गौतम के निवास पर दबिश देकर बच्ची को सकुशल बरामद कर उसके माता-पिता को सौंप दिया है. फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

Advertisement
aajtak.in
रमेश चन्द्रा उधम सिंह नगर, 26 May 2020
उत्तराखंड: चंद पैसों के लिए मासूम को चुराया, आरोपियों तक ऐसे पहुंची पुलिस, 3 गिरफ्तार प्रतीकात्मक तस्वीर

  • 20 मई को अज्ञात व्यक्ति ने चुराई थी बच्ची
  • पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा

उत्तराखंड के उधम सिंह नगर में इंसानियत को तार-तार कर देने वाला एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप हैरत में पड़ सकते हैं. मामला भी ऐसा है जहां चंद पैसों की खातिर एक मासूम बच्ची को बेचने के लिए चोरी कर लिया गया. बीते दिनों बच्चा चोरी की घटना ने क्षेत्र में सनसनी फैला दी थी जिससे पुलिस हरकत में आई और बच्ची को सकुशल बरामद कर उसकी मां को सौंप दिया. इस मामले में पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इस घटना का खुलासा होने पर पुलिस की तारीफ़ हो रही है.

उधम सिंह नगर के पुलभट्टा थाना क्षेत्र में बीते दिनों हुई 7 महीने की बच्ची की चोरी के मामले में पुलिस ने खुलासा कर बच्ची को सकुशल बरामद कर लिया. पुलिस ने बच्चा चोरी के मामले में एक आशा कार्यकर्ता सहित दो अन्य लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया है. बीती 20 मई को अज्ञात व्यक्ति ने 7 माह की बच्ची को उस समय चुरा लिया था जब वह अपनी मां के साथ झोपड़ी में सो रही थी. पीड़िता का परिवार सड़क किनारे झोपड़ी बनाकर लोहार का काम कर अपना गुजर-बसर करता है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

बच्चा चोरी के मामले में पुलिस ने बच्ची के पिता राजा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपियों की तलाश प्रारंभ कर दी थी. पुलिस ने पुल भट्टा थाना परिसर में घटना का खुलासा किया है. बच्चा चोरी के मामले का जल्द खुलासा करने के लिए तीन टीमों का गठन किया गया था. घटनास्थल के आसपास लगे कैमरे में संदिग्ध पिकअप जीप की फुटेज मिलने के बाद पुलिस टीम ने वाहन की खोजबीन कर वाहन चालक अरमान अली को पकड़ लिया और उसी की निशानदेही पर रंजना गौतम और उसके पति अर्जुन कुमार को भी गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस ने रंजना गौतम के निवास पर दबिश देकर बच्ची को सकुशल बरामद कर उसके माता-पिता को सौंप दिया है. फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है. बच्ची को सकुशल बरामद करने तथा आरोपियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को एसएसपी उधम सिंह नगर ने ढाई हजार का इनाम देने की भी घोषणा की है. बच्ची के बरामद होने के बाद बच्ची के परिजनों ने पुलभट्टा थाना पुलिस का आभार जताया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

अपर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पिंचा ने बताया कि एक महिला सहित तीन अन्य लोगों ने मिलकर बच्ची को चोरी करने की योजना बनाई थी. बच्चा चुराने के एवज में आशा कार्यकर्ता ने पिकअप वाहन चालक अरमान अली को 15000 रुपये की धनराशि देने का भी लालच दिया था. थाना पुलिस के अनुसार आरोपी रंजना गौतम और उसके पति अर्जुन गौतम ने बच्ची को कुछ दिन लालन पालन करने के बाद महंगे दाम पर अन्य किसी व्यक्ति को बेचने की योजना बना रखी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay