एडवांस्ड सर्च

4 महीने में बद्रीनाथ धाम पहुंचे 10 लाख श्रद्धालु, अब तक के रिकॉर्ड टूटे

बद्रीनाथ धाम पहुंचने वाले श्रद्धालुओं का रिकॉर्ड टूट गया है. लोकसभा चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद मई महीने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बद्रीनाथ धाम पहुंचे थे और भगवान बद्री की पूजा अर्चना की थी.

Advertisement
aajtak.in
दिलीप सिंह राठौड़ देहरादून, 22 September 2019
4 महीने में बद्रीनाथ धाम पहुंचे 10 लाख श्रद्धालु, अब तक के रिकॉर्ड टूटे बद्रीनाथ धाम की फाइल फोटो

  • बद्रीनाथ धाम के कपाट 10 मई को वैदिक मंत्रोच्चारण के बाद खोले गए थे
  • हर दिन सैकड़ों श्रद्धालु चारधाम का दर्शन कर रहे हैं, श्रद्धालुओं में खास उत्साह

बद्रीनाथ धाम यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में उत्साह बढ़ा है. इसी का नतीजा रहा कि पिछले चार महीने में 10 लाख से अधिक श्रद्धालु बद्रीनाथ धाम पहुंचे हैं. इसके साथ ही बद्रीनाथ धाम पहुंचने वाले श्रद्धालुओं का रिकॉर्ड टूट गया. लोकसभा चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद मई महीने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बद्रीनाथ धाम पहुंचे थे और भगवान बद्री यानी विष्णु की पूजा अर्चना की थी. पीएम मोदी के पूजन के दौरान पुरोहितों ने वैदिक मंत्रोच्चार किया था.

मालूम हो कि उत्तराखंड की गढ़वाल पहाड़ियों में स्थित बद्रीनाथ धाम के कपाट 10 मई को वैदिक मंत्रोच्चारण और अनुष्ठानों के बाद श्रद्धालुओं के लिए खोले गए थे. भगवान बद्री (विष्णु) की मूर्ति को मंदिर के गर्भगृह में स्थापित किया गया. इससे पहले मूर्ति को यहां 'जय बद्री विशाल' के जयकारों के बीच धार्मिक जुलूस में लाया गया.

पहले दिन करीब 10,000 श्रद्धालुओं ने दर्शन किए थे. मंदिर छह माह तक खुला रहता है और उसके बाद एक धार्मिक रिवाज के तहत मूर्ति को जोशीमठ शहर के नरसिंह मंदिर ले जाया जाता है. चारों हिंदू धामों बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के खुलने से श्रद्धालुओं के बीच चारधाम यात्रा को लेकर खासा उत्साह देखा गया. हर दिन सैकड़ों श्रद्धालु इन चारों धामों का दर्शन कर रहे हैं.(एजेंसी से इनपुट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay