एडवांस्ड सर्च

विधानसभा में बोले योगी- 22 करोड़ जनता की जिम्मेदारी, पक्ष-विपक्ष मिलकर करें काम

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा को संबोधित किया. इस दौरान योगी आदित्यनाथ विधानसभा के नेता भी चुने गये. योगी ने कहा कि सत्ता और विपक्ष को साथ मिलकर काम करना होगा, हमें जनता की उम्मीदों पर खरा उतरना है.

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018
aajtak.in [edited by: मोहित ग्रोवर]लखनऊ, 30 March 2017
विधानसभा में बोले योगी- 22 करोड़ जनता की जिम्मेदारी, पक्ष-विपक्ष मिलकर करें काम विधानसभा में योगी का पहला भाषण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा को संबोधित किया. इस दौरान योगी आदित्यनाथ विधानसभा के नेता भी चुने गये. योगी ने कहा कि सत्ता और विपक्ष को साथ मिलकर काम करना होगा, हमें जनता की उम्मीदों पर खरा उतरना है. योगी बोले कि ह्रदयशंकर दीक्षित के लेखन से काफी प्रभावित हैं.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि चुनाव प्रचार के दौरान भले ही पार्टियों के बीच चुनावी मंचों से एक-दूसरे पर प्रहार किए गए हों लेकिन सदन में सत्ता पक्ष की ओर से विपक्ष के विधायकों के प्रति कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा. योगी ने विपक्ष से अपील की कि जिस तरह विधानसभा के अध्यक्ष पद पर हृदयनारायण दीक्षित का सर्वसम्मति से निर्वाचन हुआ है, ठीक उसी तरह प्रदेश के विकास के लिए सभी पार्टियां सदन के अंदर मिलकर काम करें.

इससे पहले हृदयनारायण दीक्षित को सर्वसम्मति से यूपी विधानसभा का नया स्पीकर चुना गया. इस अवसर पर आदित्यनाथ ने दीक्षित के लेखन की सराहना की और उसे प्रेरणादायक बताया.

मिलकर काम करें सत्ता और विपक्ष
आदित्यनाथ ने कहा कि हम लोग चुनाव लड़कर आते हैं. चुनावी मंचों पर हम लोग एक-दूसरे पर अनेक प्रकार से प्रहार करते हैं लेकिन सदन इस प्रकार की बातों से दूर रहकर यूपी की 22 करोड़ जनता के बारे में सोच सके, सत्ता पक्ष और विपक्ष मिलकर कार्य कर सकें, जिस लक्ष्य के लिए जनता ने हमें चुना है हम वो पूरा कर सकें, इस दिशा में मैं ये विश्वास दिलाना चाहता हूं कि विपक्ष के साथ कोई भेदभाव न होने पाए, मेरी सरकार इस दृष्टि से काम करेगी.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay