एडवांस्ड सर्च

लोकसभा चुनाव जीतने के लिए समाजवादी पार्टी की रथ यात्रा शुरू

समाजवादी पार्टी का मिशन लोकसभा चुनाव जारी है. यूपी विधानसभा चुनाव में रथ यात्रा का फार्मूल हिट होने के बाद अब सपा उसे लोकसभा चुनाव का तैयारियों में भी आजमा रही है. इसी के तहत लोकसभा चुनाव में पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने और अपने प्रत्याशी को जिताने के लिये लगातार रथयात्रा भी निकाल रही हैं.

Advertisement
aajtak.in
अनूप श्रीवास्तव [Edited By: पीयूष शर्मा]लखनऊ, 06 February 2014
लोकसभा चुनाव जीतने के लिए समाजवादी पार्टी की रथ यात्रा शुरू धूमधाम से निकाली गई रथ यात्रा

समाजवादी पार्टी का मिशन लोकसभा चुनाव जारी है. यूपी विधानसभा चुनाव में रथ यात्रा का फार्मूल हिट होने के बाद अब सपा उसे लोकसभा चुनाव का तैयारियों में भी आजमा रही है. इसी के तहत लोकसभा चुनाव में पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने और अपने प्रत्याशी को जिताने के लिये लगातार रथयात्रा भी निकाल रही हैं.

पिछले एक महीने के भीतर समाजवादी पार्टी की सामाजिक न्याय अधिकार रथ यात्रा चौथी रथ यात्रा है, जिसे गुरुवार को लखनऊ के पार्टी मुख्यालय से रवाना किया गया. मगर इसे हरी झंडी दिखाया प्रदेश के कारागार मंत्री और प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने. सपा के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने भी सपा कार्यकर्ताओं को प्रदेश में जन जन तक प्रदेश सरकार के कामों को पहुंचाने का आह्वान किया था. साथ ही इसके लिए सपा के लोहिया समाजवादी के युवा कार्यकर्ताओं को आगे आने के निर्देश दिए थे. सपा की ये सारी कवायद उत्तर प्रदेश के अस्सी लोकसभा सीट के लिए है, इसके जरिये मुलायम सिंह यादव प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे है.

ये है मकसद
1. जो पिछड़े है या फिर जो अधिकारों से वंचित हैं, उन्हें समाज की मुख्यधारा में शामिल किया जाए.
2. सत्रह जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने और जो पिछड़ी जातियां हैं, उनके साथ सामाजिक न्याय का जो सिद्धांत है, उसको लागू किया जाए. जो वर्ग मुख्यधारा में आने के लिए संघर्ष कर रहे हैं.
3. समाजवादी पार्टी ये मानती है कि समाज के उन लोगों के साथ न्याय होना चाहिए जो राजकाज से दूर रखे गए.

इन रास्‍तों से निकलेगी
1. गुरुवार से शुरू हुई ये सामाजिक न्याय अधिकार रथयात्रा बांगरमऊ, बिल्हौर, ककवन, रसूलाबाद, वेला, तिर्वा होते हुए कन्नौज पहुंचेगी. यहां रात्रि विश्राम के बाद अगले दिन 7 फरवरी को रथयात्रा सभा व प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने के बाद गुरसहायगंज, छिबरामऊ, बेवर, भोगांव होते हुए मैनपुरी पहुंचेगी.
2. 8 फरवरी को मैनपुरी में सभा करने के बाद सामाजिक न्याय अधिकार रथयात्रा करहल, किशनी, विधूना, दिबियापुर होते हुए औरैया, पहुंचेगी. 9 फरवरी को औरैया में सभा करने के बाद ये रथ अजीतमल, बकेवर, भरथना, ताखा होते हुए इटावा पहुंचेगा.
3. अंतिम चरण में 10 फरवरी को सामाजिक न्याय अधिकार रथयात्रा इटावा में सभा करने के बाद जसवंतनगर, सिरसागंज, शिकोहाबाद और जसराना होते फिरोजाबाद पहुंचेगी, जहां इस यात्रा का समापन होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay