एडवांस्ड सर्च

प्रयागराज: CAA-NRC का अलग अंदाज में विरोध, पुरखों की कब्र पर रोने लगा कांग्रेसी नेता

कांग्रेस नेता हसीब अहमद अपने स्थानीय कार्यकर्ताओं के साथ कब्रिस्तान पहुंचे और अपने पुरखों के कब्र पर भावुक होकर रोने लगे. उन्होंने कहा कि हम अपने पूर्वजों की कब्रगाह पर आए हैं, क्योंकि हमारे पास कुछ बचा नहीं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in प्रयागराज , 24 January 2020
प्रयागराज: CAA-NRC का अलग अंदाज में विरोध, पुरखों की कब्र पर रोने लगा कांग्रेसी नेता कब्रिस्तान में रो पड़े कांग्रेस नेता हसीब अहमद

  • प्रयागराज में कांग्रेस नेता ने CAA-NRC का किया विरोध

  • शाहीन बाग की तरह यूपी में भी कई जगहों पर प्रदर्शन जारी है

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (NRC) को लेकर दिल्ली के शाहीन बाग की तरह यूपी में भी कई जगहों पर प्रदर्शन जारी है. इस बीच प्रयागराज में CAA-NRC का अलग ही अंदाज में विरोध दर्ज कराया गया. प्रयागराज में कांग्रेस नेता हसीब अहमद अपने पुरखों की कब्र पर भावुक होकर रोने लगे. वायरल वीडियो में हसीब अहमद कह रहे हैं 'हम अपने पूर्वजों की कब्रगाह पर आए हैं, क्योंकि हमारे पास कुछ बचा नहीं. इस मुल्क के हम वाशिंदे हैं और इसी मुल्क के रहने वाले हैं. पीढ़ियों दर पीढ़ी इसी मुल्क में रहे हैं और इसी मुल्क में जमींदोज हो गए.'

पूर्वजों को भी डिटेंशन सेंटर में रखा जाए

उन्होंने कहा 'हम अपने पूर्वजों की कब्रगाह पर आकर उसी बात की गवाही ले रहे हैं कि आप उठिए और गवाही दीजिए कि हम इस मुल्क के हैं. उन्होंने कहा 'अगर हमको डिटेंशन सेंटर में रखा जाता है तो हमारे पूर्वजों की कब्रगाह से इनको भी निकाला जाए और डिटेंशन सेंटर रखा जाए.'

वारणसी में पुलिस-प्रदर्शनकारियों में झड़प

CAA और NRC के विरोध में गुरुवार को वाराणसी में बड़ी संख्या में महिलाएं अपने बच्चों के साथ मुस्लिम बाहुल्य बेनियाबाग में दरी बिछाकर तिरंगे के साथ धरने पर बैठ गईं. इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंची तो लोग आक्रोशित हो गए. पुलिस संग प्रदर्शनकारियों की झड़प के बीच पथराव होने के साथ ही पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर हल्का बल प्रयोग कर दिया. इसकी वजह से भगदड़ मच गई.

ये भी पढ़ें- पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बोले- सड़क पर उतरे युवाओं के विचार महत्वपूर्ण

जिले में लागू है धारा-144

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा और एसएसपी प्रभाकर चौधरी कई थानों की फोर्स, पीएसी और दंगा नियंत्रक उपकरणों के साथ मौके पर पहुंचे. जिलाधिकारी ने बताया कि बेनियाबाग में 'कुछ अराजक तत्व' लोगों को भड़का कर जबरदस्ती विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. वाराणसी में धारा 144 लागू है. इसके लिए कहीं भी प्रदर्शन करने के लिए प्रशासन से अनुमति लेनी होगी. लेकिन, यहां पर लोग बिना किसी अनुमति के सार्वजनिक स्थान पर प्रदर्शन करने लगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay