एडवांस्ड सर्च

फेसबुक पर स्टेटस अपडेट कर झांसी यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट ने लगाई फांसी

बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के बीएससी फॉरेंसिक साइंस के फर्स्ट ईयर के स्टूडेंट राघवेंद्र राजावत ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. चौंकाने वाली बात ये है कि राघवेंद्र ने खुदकुशी से पहले फेसबुक पर स्टेटस अपडेट करते हुए लिखा, 'जिंदगी आखिर में बहुत खूबसूरत होती है.'

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited By: नमिता शुक्ला]नई दिल्ली, 09 January 2015
फेसबुक पर स्टेटस अपडेट कर झांसी यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट ने लगाई फांसी राघवेंद्र के फेसबुक प्रोफाइल से

बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के बीएससी फॉरेंसिक साइंस के फर्स्ट ईयर के स्टूडेंट राघवेंद्र राजावत ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. चौंकाने वाली बात ये है कि राघवेंद्र ने खुदकुशी से पहले फेसबुक पर स्टेटस अपडेट करते हुए लिखा, 'जिंदगी आखिर में बहुत खूबसूरत होती है.' इंस्पेक्टर ने सीनियर अध‍िकारी की हत्या कर खुद कर ली आत्महत्या

एक अखबार में छपी खबर के मुताबिक सुबह जब राघवेंद्र के दोस्‍तों द्वारा काफी देर तक दरवाजा खटखटाए जाने पर दरवाजा नहीं खुला. इस पर दोस्तों ने खिड़की से झांककर देखा तो वो पंखे से लटका हुआ था. पुलिस मौके पर पहुंची और परिजनों के आने बाद शव को नीचे उतारा गया.

घटना झांसी के नवाबाद थानाक्षेत्र के शि‍वाजी नगर मोहल्ले में मधु भवन हॉस्टल की है. वह कुछ दिन पहले ही अपने घर से यहां आया था. राघवेंद्र के दोस्त बताते हैं कि वो बहुत हंसमुख नेचर का था. राघवेंद्र ने देर रात लगभग 11.30 बजे तक फेसबुक चलाया. उसने फेसबुक पर एक-दो तस्वीरें भी अपलोड की. उसने तस्वीरों को अपलोड करते हुए लिखा कि जिंदगी समुद्र की तरह है, यह थोड़ी रफ और मुश्‍किल हो सकती है, लेकिन जिंदगी का अंत हमेशा ही सुंदर होता है. यही उसका आखिरी अपडेट था.

रिपोर्ट के मुताबिक बुधवार देर रात वह अपने दोस्तों के कमरे से वापस आया था. उसने अपने दोस्त ऋगवेद से भूतों की फिल्म देखने की इच्छा जाहिर की. दोस्तों ने रात में भूतों की फिल्म देखने को मना किया. इस पर उसने कहा कि ठाकुर हूं, भूतों से डर नहीं लगता. यह कहकर वह देर रात कमरे पर आया और फांसी लगा ली.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay