एडवांस्ड सर्च

चुनाव लड़ेंगे वाड्रा? पोस्टर में मांग- गाजियाबाद करे पुकार, रॉबर्ट वाड्रा अबकी बार

28 फरवरी को रॉबर्ट वाड्रा ने सक्रिय राजनीति में आने का संकेत दिया था. तब वाड्रा ने कहा था कि अगर वह चुनाव लड़ने का फैसला करते हैं तो इसके लिए वह अपनी जन्मभूमि मुरादाबाद को चुनेंगे.

Advertisement
aajtak.in [Edited by:पन्ना लाल]नई दिल्ली, 09 March 2019
चुनाव लड़ेंगे वाड्रा? पोस्टर में मांग- गाजियाबाद करे पुकार, रॉबर्ट वाड्रा अबकी बार फोटो-ANI

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा पोस्टर गाजियाबाद में लगे हैं. इस पोस्टर में लिखा है 'गाजियाबाद करे पुकार, रॉबर्ट वाड्रा अबकी बार'. गाजियाबाद के कौशाम्बी मेट्रो स्टेशन के बगल में लगे इस पोस्टर में रॉबर्ट वाड्रा की बड़ी सी तस्वीर है. पोस्टर के ऊपरी हिस्से में रॉबर्ट वाड्रा की सास और कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी और रॉबर्ट वाड्रा की पत्नी प्रियंका गांधी वाड्रा की तस्वीर लगी हुई है. पोस्टर में निवेदक के स्थान पर गाजियाबाद यूथ कांग्रेस लिखा हुआ है.

बता दें कि 28 फरवरी को रॉबर्ट वाड्रा ने सक्रिय राजनीति में आने का संकेत दिया था. तब वाड्रा ने कहा था कि अगर वह चुनाव लड़ने का फैसला करते हैं तो इसके लिए वह अपनी जन्मभूमि मुरादाबाद को चुनेंगे.

रॉबर्ट वाड्रा ने तब कहा था, "मैं मुरादाबाद में पैदा हुआ हूं और उत्तर प्रदेश में बचपन बिताया है और मुझे लगता है कि मैं उस क्षेत्र को समझता हूं." मुरादाबाद से पीतल के बिजनेस से अपने कारोबार की शुरुआत करने वाले रॉबर्ट वाड्रा के प्रशंसकों ने उन्हें यहां से चुनाव लड़ने को कहा था. कुछ दिन पहले मुरादाबाद में लगे पोस्टर में लिखा गया था, "रॉबर्ट वाड्रा जी मुरादाबाद संसदीय सीट से चुनाव लड़ने के लिए आपका स्वागत है."

हालांकि 7 मार्च को रॉबर्ट वाड्रा ने कहा था कि जब तक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में वे जांच एजेंसी से बेदाग साबित नहीं हो जाते हैं वह न तो देश छोड़कर भागेंगे और ना ही सक्रिय राजनीति का हिस्सा बनेंगे. समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कहा, "मैं इस देश में हूं, ऐसे लोग हैं जिन्होंने देश को लूटा है और भाग गए हैं, उनके बारे में क्या है? मैं हमेशा इस देश में रहने जा रहा हूं. जब तक मेरा नाम साफ नहीं हो जाता, तब तक न तो देश छोड़ूंगा और न ही सक्रिय राजनीति में में आऊंगा. यह मेरा वादा है."

बता दें कि रॉबर्ट वाड्रा इस वक्त मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा जांच का सामना कर रहे हैं. ED के अधिकारी कई बार उनसे पूछताछ कर चुके हैं. इस मामले में उनकी अंतरिम जमानत 19 मार्च तक बढ़ा दी गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay