एडवांस्ड सर्च

बहन मानते थे मायावती को, 17 साल तक की सुरक्षा, अब नाराज होकर शामिल हुए भाजपा में

कभी मायावती की जूती साफ करके पदम् सिंह मीडिया की सुर्खियों में आ गए थे. उन्होंने मायावती से विदाई लेते वक्त 2012 में कहा था कि मायावती उन्हें राखी बांधती थी.

Advertisement
aajtak.in
अभि‍षेक आनंद लखनऊ, 23 September 2016
बहन मानते थे मायावती को, 17 साल तक की सुरक्षा, अब नाराज होकर शामिल हुए भाजपा में कहा था- मायावती उन्हें राखी बांधती थी

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती के 17 सालों तक पर्सनल सेक्युरिटी ऑफिसर रहे पदम् सिंह ने बीजेपी ज्वाइन कर लिया है. कभी मायावती की जूती साफ करके पदम् सिंह मीडिया की सुर्खियों में आ गए थे. उन्होंने मायावती से विदाई लेते वक्त 2012 में कहा था कि मायावती उन्हें राखी बांधती थी.

पदम् सिंह ने कहा था कि उन्होंने हमेशा मायावती की सुरक्षा बहन की तरह की थी. लेकिन बसपा से ही बीजेपी में शामिल होने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य की ओर से आयोजित रैली में उन्होंने भाजपा ज्नाइन किया. इसके एक दिन बाद उन्होंने लखनऊ में कहा कि मायावती के साथ उनका संबंध खत्म हो चुका है.

दूसरे नेताओं को नहीं पसंद आता था मायावती से करीबी
लेकिन आखिर मायावती के साथ उनके संबंध में क्या बदलाव आ गया, उन्होंने कहा, 'बहनजी अब दलितों के लिए काम नहीं कर रही. कई बसपा नेताओं को मायावती से मेरी करीबी भी पसंद नहीं आती थी. वे लोग हमेशा मेरे खिलाफ बात किया करते थे.'

पदम् सिंह ने 1975 में बतौर सब-इंस्पेक्टर यूपी पुलिस ज्वाइन किया था. लेकिन 1995 में उनकी मायावती से तब मुलाकात हुई जब मायावती पर एक गेस्ट हाउस में हमला किया गया था. पदम् सिंह ने कहा कि तब उनके सीनियर्स ने उन्हें मायावती की सुरक्षा करने को कहा था. पुलिस अधिकारियों को लगा था कि पदम् सिंह के दलित होने की वजह से मायावती उन पर विश्वास करेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay