एडवांस्ड सर्च

कार्यकर्ताओं का सम्मान न करें सरकारी कर्मचारी तो जूते से पीटो, BJP विधायक के बोल

सरकारी कर्मचारियों को लेकर उत्तर प्रदेश के ललितपुर से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक ने विवादास्पद बयान दिया है. यह बयान उन्होंने 4 जून को दिया, जो अब सामने आया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 06 June 2019
कार्यकर्ताओं का सम्मान न करें सरकारी कर्मचारी तो जूते से पीटो, BJP विधायक के बोल बीजेपी विधायक रामरतन कुशवाहा.

सरकारी कर्मचारियों को लेकर उत्तर प्रदेश के ललितपुर से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक ने विवादास्पद बयान दिया है. यह बयान उन्होंने 4 जून को दिया, जो अब सामने आया है. अपने बयान में कुशवाहा ने कहा कि अगर कोई सरकारी कर्मचारी हमारे कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं करता तो जूते निकालकर उसे पीटो क्योंकि हर चीज को बर्दाश्त करने की एक सीमा होती है.

कुशवाहा ने यह भी कहा कि जिन अफसरों और कर्मचारियों की सपा-बसपा वाली सोच है, उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं को डराया-धमकाया और उन्हें पार्टी की मेंबरशिप के लिए मजबूर किया. लेकिन कुशवाहा का यह बयान बीजेपी नेताओं को ही नहीं सुहाया. जिला प्रभारी रामकिशोर साहू और जिलाध्यक्ष जगदीश सिंह लोधी ने विधायक के बयान पर नाराजगी जताई है. कुशवाहा के इस बयान का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है.

कुशवाहा ने क्या कहा बयान में

मंगलवार को सांसद अनुराग शर्मा की जीत के बाद ललितपुर के एक होटल में कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इसमें ललितपुर सदर से विधायक रामरतन कुशवाहा भी अभिनंदन समारोह में महरौनी पहुंचे थे. यहां मंच पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ''अभी भी जो प्रदेश सरकार के कर्मचारी हैं वो महीने, दो महीने में ठीक नहीं होते हैं और अपने कार्यकर्ताओं को सम्मान नहीं करते हैं तो मैं कहता हूं कि अपना जूता उतारिए और मारिए. क्योंकि एक सीमा होती है बर्दाश्त करने की. ये सपा-बसपा की मानसिकता के अधिकारी, जिन्होंने बदतमीजी करने का काम चुनाव के समय भी किया. हमारे कार्यकर्ता को हड़काया, सदस्यता के लिए मजबूर किया.मेरे पास पुलिस और राजस्व कर्मचारियों की ऐसी सूचनाएं हैं. वो अभी सतर्क हो जाएं.''

रामरतन कुशवाहा के इस बयान से सूबे की सियासत गर्मा गई है. खुद बीजेपी नेता कुशवाहा के बयान को गलत ठहरा रहे हैं. बीजेपी नेता रामकिशोर साहू ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में भी अफसरों ने मनमानी और भ्रष्टाचार किया है. लेकिन वह कुशवाहा के बयान से सहमत नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay