एडवांस्ड सर्च

महाराष्ट्र: आदित्य ठाकरे पद्म पुरस्कारों की समिति के अध्यक्ष, बीजेपी ने साधा निशाना

सीएम कार्यालय के सूत्रों के मुताबिक आदित्य को समिति के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है क्योंकि वे प्रोटोकॉल विभाग भी संभालते हैं. लेकिन अब फैसले की बहुत आलोचना हो रही है.

Advertisement
aajtak.in
साहिल जोशी मुंबई, 12 August 2020
महाराष्ट्र: आदित्य ठाकरे पद्म पुरस्कारों की समिति के अध्यक्ष, बीजेपी ने साधा निशाना आदित्य ठाकरे और उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो- पीटीआई)

  • पद्म पुरस्कारों की समिति के अध्यक्ष बने आदित्य ठाकरे
  • सरकार संभालने के उद्धव के तरीकों से शरद पवार नाखुश

महाराष्ट्र सरकार की ओर से पद्म पुरस्कारों के लिए नाम सुझाने के लिए बनाई गई समिति के अध्यक्ष के रूप में आदित्य ठाकरे की नियुक्ति की गई है. हालांकि महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले पर विवाद देखा जा रहा है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने इस फैसले पर सवाल भी खड़े किए गए हैं.

यह भी पढ़ें: सुशांत केस: शिवसेना सांसद संजय राउत का दावा- परिवार से ठीक नहीं थे उनके रिश्ते

विपक्षी पार्टी बीजेपी ने मंत्री के रूप में उनके तेवर और अनुभव को देखते हुए इसे अपरंपरागत कहा है. विधान परिषद में विपक्ष के बीजेपी नेता प्रवीण दरेकर ने इस नियुक्ति का विरोध करने के लिए सुशांत सिंह राजपूत मामले को उठाया है. प्रवीण दरेकर ने कहा, 'इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में एक वकील की ओर से आदित्य ठाकरे के नाम का भी उल्लेख किया गया है. ऐसे में पद्म पुरस्कारों की समिति में उन्हें नेतृत्व करने की अनुमति देना उचित नहीं होगा.'

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र में अब आवाज से होगी कोरोना की जांच, आदित्य ठाकरे बोले- साबित होगी नई तकनीक

सीएम कार्यालय के सूत्रों के मुताबिक आदित्य को समिति के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है क्योंकि वे प्रोटोकॉल विभाग भी संभालते हैं. लेकिन अब फैसले की बहुत आलोचना हो रही है. वहीं सूत्रों का कहना है कि एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने भी आश्चर्यजनक निर्णय लिया है. उन्होंने कथित तौर पर शिवसेना नेताओं से कहा है कि कैबिनेट से किसी वरिष्ठ को आदर्श रूप से समिति का नेतृत्व करना चाहिए.

आदित्य पर निशाना

ऐसी खबरें थीं कि सरकार को संभालने के उद्धव ठाकरे के तौर-तरीकों विशेष रूप से नौकरशाही पर अपनी निर्भरता से शरद पवार नाखुश थे. वहीं आदित्य हाल ही में खबरों में थे क्योंकि सुशांत सिंह राजपूत मामले में बीजेपी नेताओं की ओर से उन पर निशाना साधा गया था. हालांकि आरोपों से आदित्य ने व्यक्तिगत रूप से इनकार किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay