एडवांस्ड सर्च

सभी मुख्यमंत्रियों को पीछे छोड़ योगी आदित्यनाथ गूगल सर्च में बने नंबर वन CM

योगी सिर्फ अपने नेताओं या मुख्यमंत्रियों से ही नहीं बल्कि ममता और चंद्रबाबू नायडू से भी आगे दिखते हैं. साथ ही उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों अखिलेश यादव और मायावती से भी आगे हैं.

Advertisement
aajtak.in
कुमार अभिषेक / वरुण शैलेश लखनऊ, 27 October 2018
सभी मुख्यमंत्रियों को पीछे छोड़ योगी आदित्यनाथ गूगल सर्च में बने नंबर वन CM मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो-इंडिया टुडे अर्काइव)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के स्टार प्रचारक बनकर उभरे हैं. अगर चुनावी राज्यों में सबसे ज्यादा डिमांड योगी आदित्यनाथ की है. यदि उम्र में बड़े मुख्यमंत्री रमन सिंह योगी के पांव छूकर आशीर्वाद लेते हैं तो कुछ न कुछ तो ऐसा है, जो उन्हें अलग बनाता है. यही वजह है कि योगी आदित्यनाथ को जानने और खोजने की ललक आज भी सबसे ज़्यादा दिखाई देती है.

गूगल क़े ताजा सर्च ट्रेंड डेटा के नतीजे ये साबित करते हैं कि पिछले एक साल में योगी आदित्यनाथ गूगल सर्च के सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री हैं. आलम यह है कि बीजेपी का कोई भी मुख्यमंत्री लोकप्रियता के मामले में उनके आसपास नहीं ठहरता.

चाहे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हों, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह हों, गुजरात के सीएम विजय रूपाणी हो या फिर राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, गूगल पर आए रिकार्ड्स के मुताबिक योगी आदित्यनाथ इन सभी मुख्यमंत्रियों से काफ़ी आगे हैं.

योगी सिर्फ अपने नेताओं या मुख्यमंत्रियों से ही नहीं बल्कि ममता और चंद्रबाबू नायडू से भी आगे दिखते हैं. साथ ही उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों अखिलेश यादव और मायावती से भी आगे हैं.

इस साल गूगल सर्च इंजन में योगी को लोगों ने सबसे ज़्यादा सर्च किया. जिसे गूगल ने अपने वेबसाइट पर भी आंकड़ों के साथ जगह दी है. वहीं गूगल पर सर्वाधिक लोकप्रिय होने से पार्टी की बांछे खिली हुईं हैं.  बीजेपी प्रवक्ता डॉ चंद्रमोहन कहते हैं कि गूगल पर योगी आदित्यनाथ को ढूंढ़ने ओर खोजने की भूख बताती है कि उनके काम करने के बारे में लोग जानना चाहते हैं. ये एक तरह की दीवानगी का संकेत है.

बहरहाल, गूगल भले ही योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता के आंकड़े जारी कर रहा हो, लेकिन असली लोकप्रियता का टेस्ट यूपी में लोकसभा चुनाव में होगा, जहां  73 से ज्यादा सीटें  जिताने की जिम्मेदारी उनके कंधों पर भी होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay