एडवांस्ड सर्च

अयोध्या: भूमि पूजन में 180 लोग हो सकते हैं शामिल, RSS के 11 बड़े नेताओं के नाम

लिस्ट में आरएसएस के शीर्ष 11 नेता जिनमें मोहन भागवत, भैया जी जोशी, कृष्ण गोपाल, दत्तात्रेय होसबोले और लखनऊ के क्षेत्र प्रचारक अनिल कुमार शामिल हैं. ये सभी लोग इस कार्यक्रम में रहेंगे.

Advertisement
aajtak.in
कुमार अभिषेक लखनऊ, 02 August 2020
अयोध्या: भूमि पूजन में 180 लोग हो सकते हैं शामिल, RSS के 11 बड़े नेताओं के नाम राम मंदिर निर्माण की तैयारियां जोरों पर

  • आरएसएस के सभी बड़े नेता होंगे शामिल
  • वीएचपी के अंतरराष्ट्रीय महासचिव होंगे मौजूद

राम जन्मभूमि के कार्यक्रम के लिए राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट ने कुल 208 लोगों की लिस्ट तैयार की है. माना जा रहा है कि लिस्ट में अभी और काट-छांट होगी. आखिरी तौर पर 170 से 180 लोग ही 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे.

लिस्ट में आरएसएस के शीर्ष 11 नेता जिनमें मोहन भागवत, भैया जी जोशी, कृष्ण गोपाल, दत्तात्रेय होसबोले और लखनऊ के क्षेत्र प्रचारक अनिल कुमार शामिल हैं. ये सभी लोग इस कार्यक्रम में रहेंगे. इसके अलावा विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय महासचिव आलोक कुमार भी मौजूद रहेंगे. संतों की इस लिस्ट में कई बड़े नाम शामिल हैं तो कई नामों को लेकर अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है. मसलन श्री श्री रविशंकर का नाम अभी तक इस लिस्ट में नहीं है. वहीं मुरारी बापू के नाम की चर्चा भी नहीं सुनाई दे रही है.

राजनीतिक नामों में कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार, साध्वी ऋतंभरा के नाम हैं. कार्यक्रम में अकेले अयोध्या से करीब 50 संत शामिल हो सकते हैं. इनमें महंत कमल नयन दास, राम विलास वेदांती, राजू दास, चित्रकूट से महाराज बाल भद्राचार्य, प्रयागराज से आचार्य नरेंद्र गिरी और जगतगुरु स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती के नाम हैं. लेकिन चतुर्मास चलने के कारण स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे.

काशी से जितेंद्रनंद सरस्वती के अलावा तीन और वैदिक विद्वान आ रहे हैं जो उस अनुष्ठान कराने वाले विद्वान ब्राह्मणों की टीम का हिस्सा होंगे. इसमें प्रो. राम चन्द्र पाण्डेय (उपाध्यक्ष श्री काशी विद्वत्परिषद्), प्रो. रामनारायण द्विवेदी (मंत्री श्री काशी विद्वत्परिषद्), प्रो. विनय कुमार पाण्डेय (संगठन मंत्री श्री काशी विद्वत्परिषद्) के नाम हैं. ये तीनों हिन्दू विश्वविद्यालय के धर्म विज्ञान संकाय के आचार्य हैं.

इसके अलावा केरल से मां अमृतानंदमई होंगी, जबकि पटना से आचार्य किशोर कुणाल. पटना के तख्त हरमंदिर साहिब से जत्थेदार इकबाल सिंह भी इस लिस्ट में हैं. हरिद्वार से बालकानंद गिरी प्रेम गिरी, हरी गिरी और रविंद्र पुरी के नाम शामिल हैं. इनके अलावा युधिष्ठिर लाल महाराज, विजयकौशल जी महाराज, रामशरण जी महाराज, जत्थेदार हरप्रीत सिंह, अमृतसर से, जत्थेदार लखा सिंह, अमृतसर से, निर्मल दास, जालंधर से, दिगंबर गिरी, जबलपुर से, प्रणव पंड्या, रामानन्दाचार्य, संतोषी माता, हरिहरानंद, अमरकण भाष्कर गिरी, अहमदनगर से और शंभुनाथ महाराज, अहमदाबाद से शामिल होंगे. संतों के अलावा राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद मामले में बाबरी मस्जिद की तरफ से पक्षकार रहे इकबाल अंसारी, मंदिर के आर्किटेक्ट सोमपुरा परिवार, कोठारी बंधुओं का परिवार जिसमें कोठारी भाइयों की बहन पूर्णिमा कोठारी कार्यक्रम में शामिल होंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay