एडवांस्ड सर्च

अलीगढ़ में 8 दिन बाद जागा प्रशासन, बच्ची की निर्मम हत्या मामले की होगी मजिस्ट्रेट जांच

अलीगढ़ जिले के टप्पल में ढाई साल की मासूम बच्ची से दरिंदगी और हत्या के मामले ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. इस मामले पर फजीहत झेलने के बाद अलीगढ़ प्रशासन अब होश में आया है. इलाके में शांति-व्यव्स्था को कायम रखने के लिए आधा दर्जन बड़े अफसरों की ड्यूटी लगाई गई है.

Advertisement
aajtak.in
अरविंद ओझा अलीगढ़, 08 June 2019
अलीगढ़ में 8 दिन बाद जागा प्रशासन, बच्ची की निर्मम हत्या मामले की होगी मजिस्ट्रेट जांच अलीगढ़ मामले ने पूरे देश को हिला दिया है.

अलीगढ़ जिले के टप्पल में ढाई साल की मासूम बच्ची से दरिंदगी और हत्या के मामले ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. इस मामले पर फजीहत झेलने के बाद अलीगढ़ प्रशासन अब होश में आया है. दिल दहला देने वाले इस मामले में अलीगढ़ के जिलाधिकारी ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं.  शांति-व्यवस्था को कायम रखने के लिए आधा दर्जन बड़े अफसरों की ड्यूटी लगाई गई है. 2 एडीएम और 4 एसडीएम सहित 7 अफसरों को तत्काल प्रभाव से तैनात किया गया है.

पुलिस ने इस मामले में अब तक 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक अब तक फरार है. 31 मई से बच्ची लापता थी, जो बाद में गांव के बाहर बने कूड़े के ढेर पर पड़ी मिली. उसकी निर्ममता से हत्या की गई थी. आरोप यह भी था कि उसके साथ बलात्कार किया गया है. लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं हुई.

बच्ची से किस हद तक हैवानियत की गई, इसका पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है. बच्ची का एक हाथ शरीर से अलग था. उसे बहुत ज्यादा पीटा गया. बाएं पैर में फ्रैक्टर और आंखों पर जख्म था. सारी पसलियां टूटी हुई थीं. साथ ही शरीर में कीड़े पड़ गए थे, जिससे हड्डियां तक दिखाई देने लगी थीं. उसके शरीर से किडनी और यूरिनरी ब्लेडर गायब था. परिवारवालों का आरोप है कि पुलिस इस मामले में लगातार टाल-मटोल करती रही.

गिरफ्तार किए गए 4 आरोपियों में मोहम्मद असलम, जाहिद, जाहिद का भाई मेंहदी और जाहिद की पत्नी शामिल है. बच्ची की लाश को जिस दुपट्टे से लपेटा गया था, वह जाहिद की पत्नी का था. वहीं असलम साल 2014 में अपने रिश्तेदार की बच्ची के साथ यौन शोषण के आरोप में अरेस्ट हुआ था. पूछताछ में आरोपियों ने कहा कि असलम के घर में भूसे में लाश को रखा था. लेकिन पुलिस को शक है कि लाश को नमी वाली जगह पर या फिर फ्रिज में रखा था. असलम के घर में गला दबाकर हत्या की गई.

मामले में शुक्रवार को इलाके के इंस्पेक्टर केपी सिंह चहल सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया. अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुलहरि ने कहा कि मामले को पुलिस फास्ट ट्रैक अदालत में ले जाने की कोशिश की जाएगी ताकि दोषियों तो जल्द से जल्द सजा मिल सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay