एडवांस्ड सर्च

यूपी में सीएम अखिलेश सरकार का सरकारी कर्मचारियों को तोहफा, 7वें वेतन आयोग की सिफारिशें मंजूर

उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव सरकार ने राज्य कर्मचारियों को तोहफा देते हुए 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को मंजूरी दे दी है. सीएम अखिलेश के इस कदम से राज्य के 21 लाख कर्मचारियों, शिक्षकों व पेंशनरों को सातवें वेतन आयोग का लाभ मिलेगा.

Advertisement
aajtak.in
सबा नाज़/ कुमार अभिषेक लखनऊ, 13 December 2016
यूपी में सीएम अखिलेश सरकार का सरकारी कर्मचारियों को तोहफा, 7वें वेतन आयोग की सिफारिशें मंजूर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव सरकार ने राज्य कर्मचारियों को तोहफा देते हुए 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को मंजूरी दे दी है. यूपी कैबिनेट के इस कदम से राज्य के 21 लाख कर्मचारियों, शिक्षकों व पेंशनरों को सातवें वेतन आयोग का लाभ मिलेगा.

राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर किसी भी वक्त आचार संहिता लागू हो सकती है, इसी को भांपते हुए अखिलेश सरकार की कैबिनेट ने सातवें वेतन आयोग सहित कई बड़े फैसले लिए.

अखिलेश सरकार राज्य में जनवरी 2016 से ये वेतन आयोग लागू करेगी और जनवरी 2017 से लोगों को इसके लाभ मिलने लगेंगे. सरकार लोगों को इस एक साल का वेतन और पेंशन देगी.

यूपी कैबिनेट के इस फैसले से राज्य के करीब साढ़े आठ लाख सरकारी कर्मचारी, साढ़े पांच लाख शिक्षकों के साथ-साथ स्थानीय निकाय, जिला पंचायत विकास प्राधिकरणों, स्वशासी संस्थाओं, सार्वजनिक उपक्रमों निगमों तथा विकास प्राधिकरणों के कर्मचारी को फायदा मिलेगा.

7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने से सरकारी खजाने पर करीब एक हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ने का अनुमान है. हालांकि आगामी चुनाव को देखते हुए अखिलेश सरकार ने विधानसभा के पिछले मानसून सत्र में ही अनुपूरक बजट के जरिये इस राशि का इंतजाम कर लिया था.

इस फैसले के बाद अखिलेश यादव ने कहा, साढ़े चार साल तक चली यह बैठक सबसे लंबी रही है. इसमें सातवें वेतन आयोग सहित जनता के हित में कई बड़े फेसले लिए गए हैं. कैबिनेट के कुल 80 प्रस्ताव मंजूर किए हैं. कुछ और जरूरी फैसले अगली कैबिनेट बैठक में लिए जाएंगे.'

बता दें कि अखिलेश यादव ने महज छह महीने सिफारिशों को लागू कर दिया जबकि छठे वेतन आयोग को लागू करने में तीन साल की देरी हुई थी, राज्य में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने का यह फैसला आगामी विधानसभा चुनाव से ढेरों आस लगाए अखिलेश यादव का बेहद अहम कदम माना जा रहा है.

राज्य में 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों लागू करने की घोषणा कर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक ओर जहां सरकारी कर्मचारियों को लुभाने की कोशिश की, वहीं नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार की आलोचना भी की. अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा, 'जो लोग 50 दिन गिनते थे, सुनने में आया है कि वह और 50 दिन गिन रहे हैं. यह समस्या 50 दिनों में नहीं सुधरेगी, एक साल लगेगा.' अखिलेश यादव ने साथ ही कहा कि यूपी में होने वाले चुनाव में नोटबंदी की वजह से दुख-तकलीफ झेल रहे लोगों की आवाज दिखेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay