एडवांस्ड सर्च

हैदराबाद: कॉलेज में स्लीवलेस और शॉर्टस बैन, छात्राओं ने किया प्रदर्शन

हैदराबाद में संत फ्रांसिस कॉलेज प्रशासन ने छात्राओं को कहा है कि वे कुर्ती पहना करें. छात्राओं का कहना है कि कॉलेज का ये आदेश तुगलकी फरमान है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 16 September 2019
हैदराबाद: कॉलेज में स्लीवलेस और शॉर्टस बैन, छात्राओं ने किया प्रदर्शन फ्रांसिस कॉलेज में छात्राओं का विरोध प्रदर्शन (तस्वीर-ANI)

  • फ्रांसिस कॉलेज ने कैंपस में प्रतिबंधित किए शॉर्ट्स
  • छात्राओं को घुटने से नीचे की कुर्ती पहनने पर ही मिलेगी एंट्री
  • छात्र-छात्राओं ने कैंपस  में किया विरोध प्रदर्शन

हैदराबाद में संत फ्रांसिस कॉलेज की छात्राओं ने कॉलेज प्रशासन के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन किया है. इस कॉलेज में शॉर्ट्स और स्लीवलेस पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया है, छात्राएं इसका विरोध कर रही है. कॉलेज प्रशासन ने छात्राओं को कहा है कि वे कुर्ती पहना करें. छात्राओं का कहना है कि कॉलेज का ये आदेश तुगलकी फरमान है.

कॉलेज प्रशासन के इस आदेश के बाद से ही लागतार छात्राओं ने अपनी नाराजगी जाहिर की थी. सोशल मीडिया पर ऐसे कई वीडियोज वायरल भी हुए थे जिसमें छात्राओं को कॉलेज के अंदर आने से रोका जा रहा था. छात्राओं को कॉलेज में इस आधार पर एंट्री मिल रही थी, कि उनकी कुर्ती कितनी लंबी है.

कॉलेज प्रशासन के इस बेतुके फैसले के खिलाफ छात्र और छात्राओं दोनों ने विरोध जताया. कॉलेज में 1 अगस्त को ही ये आदेश जारी किया गया है. आदेश में हिदायत दी गई है कि छात्राओं को घुटने से नीचे ही कुर्ती पहनने पर एंट्री मिलेगी. उन्हें पूरी बांह की कुर्ती भी पहननी होगी. कॉलेज कैंपस में बिना बांह की कुर्ती और छोटे कपड़े बैन रहेंगे.

छात्राओं को क्लास में छोटे कपड़े पहनने पर एंट्री नहीं दी जा रही है. कॉलेज के इस तुगलकी फरमान के खिलाफ छात्राओं ने विरोध जताया है. उन्होंने प्रोटेस्ट में ऐसे बैनर और पोस्टर का इस्तेमाल किया है, जिनमें कॉलेज के के फैसले का विरोध जताया है. पोस्टर्स में लिखा गया है कि 'से नो टू लॉन्ग कुर्ती'.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay