एडवांस्ड सर्च

देश में विकसित होंगे धार्मिक पर्यटन सर्किटः सहाय

केन्द्रीय पर्यटन मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि देश में आध्यात्मिक एवं धार्मिक पर्यटन की ओर लोगों की रूचि को देखते हुए सूफी, जैन, बुद्ध, सिख एवं हिन्दू सर्किट के विकास पर ध्यान दे रहे हैं.

Advertisement
aajtak.in
भाषाभोपाल, 19 October 2011
देश में विकसित होंगे धार्मिक पर्यटन सर्किटः सहाय सुबोधकांत सहाय

केन्द्रीय पर्यटन मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि देश में आध्यात्मिक एवं धार्मिक पर्यटन की ओर लोगों की रूचि को देखते हुए सूफी, जैन, बुद्ध, सिख एवं हिन्दू सर्किट के विकास पर ध्यान दे रहे हैं.

पर्यटन के क्षेत्र में संलग्न व्यवसायियों से विचार-विमर्श के लिए भोपाल आए सहाय ने संवाददाताओं के सवालों के जवाब में कहा कि देश में आमतौर पर घरेलू पर्यटन मुख्यत: आध्यात्मिक एवं धार्मिक अभिरूचियों से जुड़ा हुआ है. इसलिए हम इसके साथ आमोद-प्रमोद भी जोड़ना चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि इसके लिए आने वाले समय में उनका ध्यान देश में सूफी, जैन, बुद्ध, सिख एवं हिन्दू सर्किट विकसित करने पर है. देश के आध्यात्मिक एवं धार्मिक पर्यटन को यदि आमोद-प्रमोद के साथ जोड़ पाए तो निश्चित रूप से घरेलू पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा.

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि भोपाल के निकट गोंदरमउ गांव, महर्षि पतंजलि की जन्मस्थली है और वह राज्य सरकार से अपेक्षा करेंगे कि वह यहां पर्यटन को बढ़ावा देने पर ध्यान केन्द्रित करे.

उन्होंने कहा कि पर्यटन को स्वास्थ्य, योग एवं आयुर्वेद से जोड़ने के लिए देश में काफी काम हुआ है और इस पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है. केरल की तरह मध्यप्रदेश में भी ‘स्वास्थ्य पर्यटन केन्द्र’ विकसित करने की अपार संभावनाएं हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay