एडवांस्ड सर्च

Advertisement

राहुल गांधी ने SP के वादों की लिस्ट फाड़ी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलाने की कोशिश में जुटे पार्टी महासचिव राहुल गांधी ने लखनऊ में आयोजित रैली में समाजवादी पार्टी के वादों की लिस्ट को फाड़ कहा कि अब यह प्रदेश सूचियों और वादों से नहीं चलेगा.
राहुल गांधी ने SP के वादों की लिस्ट फाड़ी राहुल गांधी
आजतक ब्यूरोलखनऊ/उन्नाव, 15 February 2012

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलाने की कोशिश में जुटे पार्टी महासचिव राहुल गांधी ने विपक्षी पार्टियों की नीति और नीयत में खोट होने की बात करते हुए कहा कि सिर्फ कांग्रेस ही पिछले 22 साल से कोरे वादे सुन रही प्रदेश की जनता को विकास की राह पर ले जा सकती है. इस दौरान राहुल ने लखनऊ में आयोजित रैली में समाजवादी पार्टी के वादों की लिस्ट को फाड़ कहा कि अब यह प्रदेश सूचियों और वादों से नहीं चलेगा.

राहुल ने लखनऊ में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित जनसभा में कहा कि बसपा अध्यक्ष मायावती और सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव चुनावी मौसम में एक बार फिर वही पुराने वादे कर रहे हैं.

कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘वे अब बिजली, पानी, रोजगार और बेरोजगारी भत्ता देने का वादा कर रहे हैं. वादों की वही सूची हर बार चलती है. लेकिन अब सूची और वादे नहीं चलेंगे.’ उन्होंने यह कहते हुए अपने हाथ में लिया हुआ कागज फाड़ दिया.

राहुल ने कहा कि अमेरिका को प्रगति के मामले में भारत से पीछे हो जाने का अहसास हो चुका है. पूरी दुनिया घबरा रही है, क्योंकि भारत आगे बढ़ रहा है लेकिन उत्तर प्रदेश वहीं खड़ा है. जितनी तेजी से भारत आगे दौड़ रहा है उतनी ही तेजी से यह प्रदेश पीछे हो रहा है.

कांग्रेस महासचिव ने किसी का नाम लिये बगैर कहा, ‘भ्रष्टाचार के खिलाफ यात्रा निकालने वाले भाजपा के एक वरिष्ठ नेता को अपनी पार्टी की सरकार वाले राज्यों में भ्रष्टाचार नहीं दिखता. कुशवाहा का भ्रष्टाचार नहीं दिखता, मायावती सरकार का भ्रष्टाचार नहीं दिखता.’ उन्होंने कहा, ‘पिछले 22 सालों से कांग्रेस बाकी प्रदेशों में चुनाव लड़ती थी, मगर उत्तर प्रदेश में ठीक से नहीं लड़ती थी. पार्टी ने प्रदेश में पहला कदम 2009 में उठाया था और दूसरा कदम 2012 में उठाया है. मैंने पूरे उत्तर प्रदेश का दौरा किया और मुझे लगता है कि 22 साल बाद कांग्रेस मैदान में लड़ रही है.’

राहुल ने कहा, ‘हम यहां रैलियां करने नहीं आए हैं. आप 22 साल से वादे सुन रहे हैं. अगर अब भी वादे ही सुनने हैं तो मायावती और मुलायम के भाषण सुनिये. लेकिन अगर प्रदेश का विकास चाहिये तो कांग्रेस के पास आइये.’

इससे पहले, उन्नाव में आयोजित जनसभा में राहुल ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए पहले तीन चरण में हुए भारी मतदान को अपने पक्ष में बताते हुए दावा किया कि युवा वर्ग कांग्रेस के समर्थन में खड़ा हो गया है.

राहुल ने कहा, ‘अब तक हुए मतदान के 60-65 प्रतिशत तक पहुंच जाने के पीछे सबसे बड़ा कारण यह है कि हर जगह युवा वर्ग कांग्रेस को समर्थन कर रहा है.’

कांग्रेस महासचिव ने पार्टी की सरकार बनने पर पांच साल में उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल देने का वादा दोहराते हुए कहा कि अच्छा काम करने के लिए दो हाथ चाहिए. उन्होंने कहा, ‘काम करने के लिए दोनों हाथों की जरुरत होती है. अभी केवल केन्द्र में ही हमारी सरकार है और केवल एक हाथ काम कर रहा है. उत्तर प्रदेश में भी हमारी सरकार बनवाइए और दोनों हाथों से काम करने का मौका दीजिए.’

प्रदेश में सत्तारुढ़ मायावती सरकार और उससे पहले सत्ता में रही मुलायम सिंह यादव सरकार को आड़े हाथ लेते हुए राहुल ने कहा कि प्रदेश की जनता ने एक को चार बार और दूसरे को तीन बार मुख्यमंत्री बनने का मौका दिया और अगर वे फिर मौका पाते हैं तो भी कुछ करने वाले नहीं हैं.

उन्होंने राजनीति करने और समझने के लिए गहन जनसम्पर्क को जरुरी बताते हुए सवाल किया कि मुलायम और मायावती पांच साल में कितनी बार गांव में लोगों के बीच गये हैं.

राहुल ने कहा, ‘जनता को झूठे वादे सुनने की आदत पड़ गयी है. सरकारें आती हैं, चोरी करती हैं और चली जाती हैं. भाजपा आई कुछ नहीं किया. राम का नाम लिया. सपा और बसपा के लोग जाति के नाम पर वोट मांगते हैं और आप देते हैं लेकिन आपको कुछ नहीं मिला.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay