एडवांस्ड सर्च

हरियाणा में जमीन अधिग्रहण पर सियासत तेज

हरियाणा में जमीन अधिग्रहण पर जारी हंगामे को लेकर सियासी रोटिय़ां सेंकने के मूड में है बीजेपी. राजनाथ सिंह गुड़गांव के उस गांव में पंचायत करेंगे जहां की जमीन राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को दी गई है.

Advertisement
aajtak.in
चंद्रप्रकाश/अनुराग ढांडावल्लभगढ़, 05 August 2011
हरियाणा में जमीन अधिग्रहण पर सियासत तेज राजनाथ सिंह

हरियाणा में जमीन अधिग्रहण पर जारी हंगामे को लेकर सियासी रोटिय़ां सेंकने के मूड में है बीजेपी. राजनाथ सिंह गुड़गांव के उस गांव में पंचायत करेंगे जहां की जमीन राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को दी गई है.

पढ़ें अन्‍य राज्‍यों की खबरें

गुड़गांव के उल्ला ह्वास वास गांव में फिर ऐसी ही पंचायत बैठेगी और उसमें मौजूद होंगे बीजेपी नेता राजनाथ सिंह. उल्ला ह्वास के अलावा वो बेहरामपुर और घाठा गांवो में भी जाएंगे. ये वही गांव हैं जहां की करीब 5 एकड़ जमीन राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को दी गई है.

गांव के किसानों का आरोप है कि मुख्यमंत्री हुड्डा और सोनिया गांधी का नाम लेकर प्रशासन ने उन पर दबाव बनाया और पंचायत को धोखे में रखकर दस्तख़त करा लिए. मामला पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट तक भी पहुंच गया है. अब बीजेपी इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस पर हल्लाबोल की तैयारी में है.

LIVE आजतक देखें

उधर बल्लभगढ़ में 49 गांवों के किसानों ने पंचायत बुलाई और हुडा सरकार के खिलाफ आंदोलन का ऐलान किया. हरियाणा में सोनीपत के गांव बढ़खालसा के किसान भी कई महीने से धरने पर हैं. हरियाणा सरकार ने नेशनल हाईवे नंबर एक पर प्रस्तावित राजीव गांधी एजुकेशन सिटी के लिए 9 गांवों की जमीन अधिग्रहित की, लेकिन किसान अपनी जमीन किसी भी कीमत पर देने को तैयार नहीं.

अब हरियाणा के किसानों ने ग्रेटर नोएडा के किसानों के साथ मिलकर आंदोलन करने का फैसला किया है. इसके लिये 700 किसानों का एक दल 7 और 8 अगस्त को भट्टा पारसौल गांव में किसानों से बातचीत करेगा. यानी यूपी में जमीन अधिग्रहण का सियासी दांव, हरियाणा में कांग्रेस के खिलाफ ही इस्तेमाल होने वाला है.
मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो देखने के लिए जाएं http://m.aajtak.in पर.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay