एडवांस्ड सर्च

बर्फ की फुहारों के बीच खुले बद्रीनाथ के कपाट

दुनिया में हिन्दुओं के सर्वोच्च तीर्थ के रूप में मान्य चमोली जिले में स्थापित भगवान विष्णु के बैकुंठधाम बद्रीनाथ मंदिर के कपाट ग्रीष्मकाल के लिये बर्फ की फुहारों के बीच खोल दिये गये.

Advertisement
aajtak.in
भाषादेहरादून, 29 April 2012
बर्फ की फुहारों के बीच खुले बद्रीनाथ के कपाट बद्रीनाथ

दुनिया में हिन्दुओं के सर्वोच्च तीर्थ के रूप में मान्य चमोली जिले में स्थापित भगवान विष्णु के बैकुंठधाम बद्रीनाथ मंदिर के कपाट ग्रीष्मकाल के लिये बर्फ की फुहारों के बीच खोल दिये गये. इस अवसर पर हजारों की संख्या में पहुंचे तीर्थयात्रियों ने भगवान बद्रीनाथ और अखंड ज्योति के दर्शन किये.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बद्रीनाथ के कपाट रविवार तड़के चार बजे वैदिक मंत्रोच्चार के बीच आम लोगों के दर्शन के लिए खोल दिये गये. इस अवसर पर प्रमुख रूप से रिलायंस समूह के चेयरमैन तथा उद्योगपति अनिल अंबानी और कारपोरेट लाबिस्ट नीरा राडिया सहित तमाम प्रशासनिक अधिकारी भी उपस्थित थे.

सूत्रों के अनुसार जिस समय मंदिर के कपाट खोले गये, उस समय पूरे क्षेत्र में बर्फबारी हो रही थी लेकिन इसके बावजूद हजारो की संख्या में श्रद्धालु मौके पर उपस्थित थे. भगवान बद्रीनाथ के जयकारों से पूरा क्षेत्र गूंज उठा था.

सूत्रों के अनुसार बद्रीनाथ धाम के मुख्य पुजारी रावल केशव नम्बूरी ने कपाट खोलने और पूजा करने की परम्परा का निर्वाह किया. सूत्रों के अनुसार बद्रीनाथ भगवान की पूजा के दौरान परम्परागत ढंग से उनके विग्रह पर तिल का तेल लगाने और अखंड दीपक जलाने के लिये तेल पेर कर उसे रखने वाले बर्तन ‘गाडू घडी’ को टिहरी के राजदरबार से लेकर बद्रीनाथ के लिये कल पहुंचा दिया गया था.

सूत्रों ने बताया कि मंदिर में लंबी लंबी लाइनों से लोगों को निजात दिलाने के लिये रविवार से यात्रियों के पंजीकरण की व्यवस्था शुरू की गयी है. यात्रियों का पंजीकरण करने के बाद उन्हें दर्शन के लिये समय दिया जा रहा है ताकि वे लाइन में खडे रहने से बच जाएं.

मंदिर के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह ने बताया कि यात्रियों का पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर पंजीकरण कराया जा रहा है, जिससे यात्रियों को मंदिर के प्रवेश द्वार पर दर्शनों के लिये निर्धारित समय दिया जा रहा है और उस समय पर आकर यात्री दर्शन कर रहे हैं.

सिंह ने बताया कि करीब दस हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित बद्रीनाथ धाम में आज एक आकलन के अनुसार पांच हजार श्रद्धालुओं ने बद्रीनाथ के दर्शन किये.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay