एडवांस्ड सर्च

कलराज हो सकते हैं भाजपा विधायक दल के नेता

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक दल के नेता के रूप में कलराज मिश्र को पहली पसंद के तौर पर देखा जा रहा है और आने वाले दिनों में विधानमंडल दल के नेता के रूप में उनकी ताजपोशी की जा सकती है.

Advertisement
aajtak.in
आईएएनएसलखनऊ, 21 March 2012
कलराज हो सकते हैं भाजपा विधायक दल के नेता भाजपा

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक दल के नेता के रूप में कलराज मिश्र को पहली पसंद के तौर पर देखा जा रहा है और आने वाले दिनों में विधानमंडल दल के नेता के रूप में उनकी ताजपोशी की जा सकती है.

भाजपा कार्यालय के सूत्रों के मुताबिक विधानसभा चुनाव में पार्टी के केवल 47 सीटों पर सिमटने के बाद राष्ट्रीय नेता उमा भारती विधायक दल की नेता बनने में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखा रही हैं और ऐसी सूरत में कलराज मिश्र के विधायक दल का नेता चुने जाने की सम्भावनाएं बढ़ गई हैं.

भाजपा के एक नेता ने बताया कि विधानमंडल दल के नेता की दौड़ में उमा भारती, कलराज मिश्र के अलावा हुकुम सिंह भी हैं. हुकुम सिंह मुजफ्फरनगर जिले की कैराना विधानसभा सीट से जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं. पार्टी के भीतर उनका भी काफी रसूख माना जाता है.

भाजपा नेता की मानें तो उमा विधायक दल की नेता बनने में ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखा रही हैं और पार्टी के भीतर और बाहर कलराज के नाम पर किसी तरह का विरोध भी नहीं है. हुकुम सिंह भी दावेदारी प्रस्तुत कर सकते हैं लेकिन कलराज के सामने उनके टिकने की सम्भावना कम ही है.

पार्टी सूत्रों की मानें तो वर्ष 2007 में राजनाथ सिंह ने हुकुम सिंह को विधानमंडल दल का नेता बनाए जाने की वकालत की थी लेकिन बाजी पार्टी के पिछड़े नेता ओम प्रकाश सिंह के हाथ लगी थी लेकिन इस बार वह कलराज के नाम की खिलाफत करेंगे इसकी सम्भावना कम ही है.

भाजपा नेता ने बताया कि चुनाव में पार्टी 47 सीटें जीतकर तीसरे नम्बर पर है और इस सूरत में विधानसभा में भी उसकी भूमिका खास महत्वपूर्ण नहीं होने वाली है. शायद इसीलिए उमा विधानमंडल दल के नेता पद को कोई खास तवज्जो नहीं दे रही हैं.

भाजपा नेता यह भी कहते हैं कि एक बात यह भी है कि जो दिल्ली का मोह त्यागने को तैयार होगा उसी की ताजपोशी विधायक दल के नेता के तौर पर हो सकती है.


पार्टी सूत्रों की मानें तो कलराज मिश्र इस समय दिल्ली में हैं और ऐसी चर्चाएं हैं कि अगले एक दो दिन में वह राज्यसभा से इस्तीफा दे सकते हैं, जिसके बाद पार्टी आधिकारिक तौर पर विधायक दल के नेता के चयन की प्रक्रिया शुरू करेगी

इस मामले में भाजपा के प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने बताया कि विधायक दल के नेता का चयन एक संवैधानिक प्रक्रिया के तहत होता है और समय आने पर नेता का चुनाव हो जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay