एडवांस्ड सर्च

वसुंधरा राजे ने कोटा राज परिवार को कांग्रेस से BJP में मिलाया

वसुंधरा राजे चुनाव में नामांकन भरने के आखिरी दिन से पहले कोटा के पूर्व राजपरिवार को बीजेपी में शामिल करने में कामयाब रहीं. गौरतलब है कि वसुंधरा राजे खुद धौलपुर राजपरिवार से हैं.

Advertisement
Assembly Elections 2018
शरत कुमार[Edited By: राहुल झारिया]जयपुर, 20 November 2018
वसुंधरा राजे ने कोटा राज परिवार को कांग्रेस से BJP में मिलाया वसुंधरा राजे आज खुद कोटा राज परिवार के निवास सिटी पैलेस पहुंची

राज परिवार का कोई सदस्य कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हो तो राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का दिल दुखता है. वसुंधरा राजे नामांकन के आखिरी दिन से एक दिन पहले रात कोटा के पूर्व राजपरिवार को बीजेपी में शामिल करने में कामयाब रहीं. गौरतलब है कि वसुंधरा राजे खुद धौलपुर राजपरिवार से हैं.

कोटा का राजपरिवार लंबे समय से कांग्रेस से जुड़ा रहा है और कोटा के पूर्व महाराज ईज्यराज सिंह कांग्रेस के सांसद भी रहे हैं. उनके पिता भी कांग्रेस पार्टी की तरफ से केंद्र में कैबिनेट मंत्री रहे हैं, लेकिन वसुंधरा राजे ने इनकी पत्नी कल्पना सिंह को लाडपुरा विधानसभा से बीजेपी का टिकट देकर कांग्रेस के खिलाफ मैदान में उतार दिया है.

अपनी कामयाबी का जश्न मनाने के लिए वसुंधरा राजे आज खुद कोटा राज परिवार के निवास सिटी पैलेस पहुंची और वहां तिलक लगाकर ईज्यराज सिंह और उनकी पत्नी कल्पना सिंह को बीजेपी की सदस्यता दिलवाई. इस मौके पर कोटा के सांसद ओम बिरला भी मौजूद थे.

इस मौके पर वसुंधरा राजे ने कहा कि मैं जब भी कोटा राज परिवार के सदस्यों को देखती थी कि वह कांग्रेस में है तो मेरा मन दुखता था. कुमार ईज्यराज सिंह को तो मैं अपने बेटे दुष्यंत की तरह मानती हूं, लेकिन आज कल्पना और ईज्यराज के हमारी परिवार में वापस आने से मजबूती मिली है और हमें खुशी भी मिली है.

राहुल गांधी ने जब झालावाड़ से लेकर कोटा तक का रोड शो किया था तो खुद राहुल गांधी ईज्यराज सिंह को हर जगह आगे रखते थे. हालांकि, ईज्यराज की इच्छा अपनी पत्नी को कांग्रेस से लाडपुरा से टिकट दिलवाना थी.

हालांकि, लाडपुरा की सीट अल्पसंख्यक कोटा के तहत गुड्डू नईम को चली गई. इससे नाराज होकर ईज्यराज सिंह ने कांग्रेस का साथ छोड़ दिया.

इस बात को लेकर भी राजस्थान में चर्चा है कि जयपुर के पूर्व राजकुमारी दिया सिंह का टिकट वसुंधरा राजे ने सवाई माधोपुर से काट दिया. राजे और दिया सिंह के बीच राजमहल होटल की जमीन को लेकर लंबे समय तक विवाद चलता रहा था.

टिकट कटने पर दिया सिंह ने कहा कि मैं उनसे नाराज नहीं हूं क्योंकि वही मुझे राजनीति पर लेकर आई थी और उनके कहने पर ही मैंने चुनाव लड़ा था.

इसी तरह वसुंधरा राजे आज कोटा में कांग्रेस के पूर्व विधायक और राष्ट्रीय महिला आयोग के पूर्व अध्यक्ष ममता शर्मा को भी औपचारिक रूप से बीजेपी में शामिल करवाया. ममता शर्मा को भी कल पीपल्दा विधानसभा से बीजेपी का टिकट थमाया है. ये खुद के लिए या अपने बेटे के लिए बूंदी से टिकट चाह रही थीं.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay