एडवांस्ड सर्च

वैभव गहलोत के क्रिकेट एसोसिएशन चुनाव लड़ने पर घमासान में कूदे पायलट

सचिन पायलट ने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस के सीनियर नेता रामेश्वर डूडी को रोकने के लिए पुलिस लगाई गई थी उसे सरकार को बचना चाहिए था. इस पूरे घटनाक्रम से कांग्रेस पार्टी के छवि को नुकसान हुआ है.

Advertisement
aajtak.in
शरत कुमार जयपुर, 03 October 2019
वैभव गहलोत के क्रिकेट एसोसिएशन चुनाव लड़ने पर घमासान में कूदे पायलट राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट

  • 'कांग्रेस पार्टी की छवि को हो रहा नुकसान'
  • राजस्थान में 2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव

राजस्थान में कांग्रेस की कलह सड़क पर आ गई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत की राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव लड़ने को लेकर कई सवाल खड़े हुए हैं.  इसे लेकर कांग्रेस पार्टी के अंदर मचे घमासान में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और राज्य के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी कूद पड़े हैं.

'पार्टी की छवि को हो रहा नुकसान'

सचिन पायलट ने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस के सीनियर नेता रामेश्वर डूडी को रोकने के लिए पुलिस लगाई गई थी, उससे सरकार को बचना चाहिए था. इस पूरे घटनाक्रम से कांग्रेस पार्टी की छवि को नुकसान हुआ है.

आगे पायलट ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत चुनाव लड़ रहे हैं और ऐसे में जो कुछ घटनाक्रम मीडिया में सामने आया है. वह पार्टी के लिए ठीक नहीं है. राज्य में 2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं. ऐसे समय में इस तरह की खबरें ठीक नहीं है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और रामेश्वर डूडी दोनों ही कांग्रेस के बड़े नेता हैं.

बैठ कर करें बातचीत- पायलट

उन्होंने कहा, 'सीपी जोशी भी कांग्रेस के बड़े नेता हैं. इन लोगों को ऐसे करने के बजाय आपस में मिल बैठ कर बात करना चाहिए था. जो कुछ घटनाक्रम सवाई मानसिंह स्टेडियम के बाहर हुआ, उससे विरोधियों को निशाना साधने का मौका मिलेगा.' अगर सभी लोग आपस में बैठकर मामले को सुलझा लेते तो यह नौबत नहीं आती. इस तरह से बड़ी संख्या में पुलिस बल का उपयोग करना दुर्भाग्यपूर्ण है और इसका सरकार की छवि पर ठीक संदेश नहीं पड़ेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay