एडवांस्ड सर्च

पेट्रोल की कीमतों पर राजस्थान के मंत्री का अजब बयान, भारतीयों के 'कैरेक्टर' को कोसा

राजस्थान के मंत्री ने कहा कि देश के लोगों को पेट्रोल-डीजल के दाम तो दिख रहे हैं लेकिन यह नहीं दिख रहा कि सरकार बाढ़ पीड़ितों के लिए कितना खर्च करती है और उसका पैसा कहां से आता है.

Advertisement
शरत कुमार [edited by: रविकांत सिंह]जयपुर, 10 September 2018
पेट्रोल की कीमतों पर राजस्थान के मंत्री का अजब बयान, भारतीयों के 'कैरेक्टर' को कोसा बीजेपी का झंडा

राजस्थान के वसुंधरा सरकार के मंत्री राजकुमार रिणवा ने पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि पर विवादित बयान दिया है. रिणवा ने कहा कि बाढ़ आ रही है, उसमें पैसे नहीं लगते हैं क्या? उन्होंने यह भी का कि पेट्रोल की कीमतों में तेजी तो सबको दिख रही है लेकिन बाढ़ के खर्चे नहीं दिख रहे हैं.

रिणवा ने भारतीयों के चरित्र पर भी तंज कसते हुए कहा कि 'यहां नेशनल कैरेक्टर नाम की कोई चीज ही नहीं है. दूसरे देशों में प्राकृतिक आपदा आने पर या पेट्रोल की कीमतें बढ़ने पर खर्चे कम कर देते हैं लेकिन हमारे यहां तो ऐसा कुछ भी नहीं है.'

सीकर के फतेहपुर में बिंदल कुलदेवी मंदिर में शिरकत करने आए मंत्री से जब पत्रकारों ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेलों के दामों पर निर्भर करते हैं लेकिन जनता यह चीज तो समझती नहीं है.

रिणवा अपने इस बयान के बाद विपक्ष समेत आमजन के आरोपों से घिर गए हैं. पेट्रोल की कीमतों को बाढ़ के खर्च से जोड़ने पर चारों ओर उनकी काफी आलोचना हो रही है.

गौरव यात्रा का किया बचाव

रिणवा ने कहा कि कांग्रेस ने जो अपने 50 साल के राज में नहीं किया, वो हमने कर दिखाया है. गौरव यात्रा पर कांग्रेस की आलोचना पर उन्होंने कहा, प्रदेश सरकार ने वास्तव में गौरव का कार्यक्रम किया है, इसलिए गौरव यात्रा निकाली जा रही है.

गौरव यात्रा पर भी अपना तर्क देते हुए उन्होंने सवाल किया कि हम यदि एक कुआं भी बनाते हैं या मंदिर भी बनाते हैं तो उसका भी रात्रि जागरण और प्रसाद बांटकर गौरव मनाते हैं. यहां तो पूरे प्रदेश में 26 लाख लोगों के लिए मकान बनाने के साथ काफी विकास के काम हुए हैं, तो सरकार उसका गौरव क्यों ना मनाए?

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay