एडवांस्ड सर्च

मुस्लिम महिलाओं ने मनोज तिवारी को बांधी राखी, बदले में मांगा तीन तलाक बिल

मुस्लिम महिलाओं ने रविवार को रक्षाबंधन के पर्व पर दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी की कलाई पर राखियां बांधी. इस दौरान उन्होंने बीजेपी सांसद मनोज तिवारी से राखी बांधने के बदले तीन तलाक बिल पारित कराने की मांग की.

Advertisement
aajtak.in
राम कृष्ण/ मणिदीप शर्मा नई दिल्ली, 26 August 2018
मुस्लिम महिलाओं ने मनोज तिवारी को बांधी राखी, बदले में मांगा तीन तलाक बिल दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी को राखी बांधती मुस्लिम महिला

रक्षाबंधन का पर्व रविवार को पूरे देश में धूमधाम से मनाया गया. बहनों ने अपने भाइयों की कलाइयों पर राखियां बांधी, तो भाइयों ने उनको उपहार और रक्षा का वचन दिया. इस दौरान मुस्लिम बहनें भी हिंदू भाइयों को राखी बांधती नजर आईं. रविवार को दिल्ली की मुस्लिम महिलाओं ने बीजेपी सांसद मनोज तिवारी को राखी बांधी और बदले में उनसे तीन तलाक का बिल मांगा.

रविवार सुबह मुस्लिम महिलाएं दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के घर पहुंचीं और उनको राखियां बांधी. इन मुस्लिम बहनों ने अपने भाई मनोज तिवारी की लंबी उम्र के लिए भी दुआएं की.

राखी बांधने के बाद मुस्लिम महिलाओं ने मनोज तिवारी से कहा, 'आप हमारे भाई हैं और हमें जिल्लत की जिंदगी से निजात दिलाने के लिए तीन तलाक का बिल संसद से पारित कराइए.'

इस पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने मुस्लिम महिलाओं को भरोसा दिया कि इस बार चाहे कुछ भी हो जाए, राज्यसभा में मोदी सरकार तीन तलाक बिल को पास कराकर रहेगी, ताकि मुस्लिम महिलाओं को उनका हक मिल सके.

इस दौरान एक मुस्लिम महिला शबाना ने कहा, 'जो काम अधूरा रह गया है, वो काम अब पूरा होना चाहिए. हमने मनोज तिवारी की कलाई में राखी इसलिए बांधी है, क्योंकि राखी का यह धागा उन्हें इतनी हिम्मत देगा कि वो राज्यसभा में हमारे लिए लड़ सकेंगे.'

मालूम हो कि रविवार को 'मन की बात' कार्यक्रम के 47वें संस्करण में पीएम मोदी ने भी मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक बिल पास कराने का भरोसा दिया. उन्होंने कहा कि यह बिल लोकसभा में पास हो गया है और अभी राज्यसभा से पास होना है. पीएम ने कहा, 'मैं मुस्लिम महिलाओं को विश्वास दिलाता हूं कि पूरा देश उन्हें न्याय दिलाने के लिए खड़ा है.'

उन्होंने कहा कि देश की नारी शक्ति के खिलाफ कोई भी सभ्य समाज किसी भी प्रकार के अन्याय को बर्दाश्त नहीं कर सकता. बलात्कार के दोषियों को देश सहन करने के लिए तैयार नहीं है. लिहाजा संसद ने आपराधिक कानून संशोधन विधेयक को पास कर कठोरतम सजा का प्रावधान किया है.

इस दौरान पीएम मोदी ने देशवासियों को रक्षाबंधन के पर्व की बधाई भी दी. पीएम मोदी ने कहा, 'आज पूरा देश रक्षाबंधन का त्योहार मना रहा है. सभी देशवासियों को इस पावन पर्व की बहुत-बहुत शुभकामनाएं. यह पर्व बहन और भाई के आपसी प्रेम और विश्वास का प्रतीक माना जाता है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay