एडवांस्ड सर्च

राहुल गांधी बोले- भारतीय वायुसेना का नाम बदलकर अंबानी वायुसेना कर देना चाहिए

राहुल गांधी ने राजस्थान के पोकरण में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में पार्टी की सरकार बनने पर दस दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा.

Advertisement
aajtak.in
राहुल विश्वकर्मा नई दिल्ली, 26 November 2018
राहुल गांधी बोले- भारतीय वायुसेना का नाम बदलकर अंबानी वायुसेना कर देना चाहिए राहुल गांधी. फोटो- @INCIndia

राजस्थान में प्रचार अभियान तेज हो गया है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज राजस्थान के जालोर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि देश की रेलवे का बजट करीब 1 लाख 20 हजार करोड़ रुपये है, लेकिन इसका फायदा देश की जनता को नहीं मिलता केवल अडानी को मिलता है. भारतीय रेलवे का नाम बदलकर अडानी रेलवे कर देना चाहिए. वहीं दूसरी तरफ भारतीय वायुसेना है उसे बदलकर अंबानी वायुसेना कर देना चाहिए.

राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी जहां भी जाते हैं देश की रक्षा की बात करते हैं. यूपीए सरकार ने वायुसेना को 126 विमान खरीदने की इजाजत दी, हम चाहते थे कि विमान देश में बनें ताकि देश के युवाओं को रोजगार मिले इसलिए हमने एचएएल को इसका कॉन्ट्रैक्ट दिया. लेकिन बाद में नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने और अनिल अंबानी के साथ फ्रांस गए. वहां जाकर उन्होंने कहा कि इंडियन एयरफोर्स की बात छोड़ो हमें अंबानी एयरफोर्स बनानी है. 126 विमान नहीं केवल 36 विमान खरीदेंगे. एचएएल विमान नहीं बनाएगी बल्कि अनिल अंबानी बनाएंगे साथ ही एक विमान के लिए 526 करोड़ रुपये बहुत कम कीमत है, इसे 1600 करोड़ रुपये में खरीदेंगे.

राहुल ने कहा कि रातोंरात सीबीआई डायरेक्टर को हटा दिया गया क्योंकि वो राफेल मामले की जांच करवाने वाले थे. सीबीआई जांच में दो नाम सामने आते पहला नरेंद्र मोदी और दूसरा अनिल अंबानी, लेकिन देश के चौकीदार ने घबराकर सीबीआई डायरेक्टर को निकाल दिया.

राहुल गांधी ने कहा कि पहले नरेंद्र मोदी बोलते थे 'अच्छे दिन' तो जनता बोलती था 'आएंगे' लेकिन अब मोदी बोलते हैं 'चौकीदार' तो लोग बोलते हैं 'चोर है'. साढ़े चार साल में अच्छे दिन आएंगे से चौकीदार चोर है.

राहुल गांधी ने जनता से पूछा कि नोटबंदी ने जालोर का कितना नुकसान किया, कितने लोगों को बेरोजगार किया? लाखों लोगों को लाइन में खड़ा कर उनकी जेब से पैसा निकालकर काले धन वालों को पैसा दिया जिसमें नीरव मोदी, ललित मोदी, मेहुल चोकसी और विजय माल्या का नाम शामिल है. जो पैसा आपको मिलना चाहिए वो इन लोगों के नाम जा रहा है. राहुल ने कहा कि इन सबके नाम 'मोदी' कैसे हैं? कोई 35 हजार करोड़ ले जाता है, कोई 10 हजार करोड़ ले जाता है तो कोई 30 हजार करोड़ रुपये अपने दोस्त को दे देता है.

कांग्रेस पार्टी ने कहा था जीएसटी आएगा. एक टैक्स होगा, कम टैक्स होगा और जो चीजें गरीब लोग इस्तेमाल करते हैं वो टैक्स में नहीं होगा लेकिन नरेंद्र मोदी ने कहा कि गब्बर सिंह टैक्स आएगा. पीएम ने पांच अलग- अलग टैक्स लगाए और सारा फायदा उन्हीं 15-20 लोगों को पहुंचाया जाता है.

पोकरण में कही थी किसानों की कर्ज माफी की बात

इससे पहले उन्होंने पोकरण में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि राज्य में पार्टी की सरकार बनने पर दस दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि वह खोखले वादे करने में विश्वास नहीं करते बल्कि मानते हैं कि सच्चाई से भी बहुत काम किया जा सकता है. इसके साथ ही उन्होंने पार्टी के नेताओं को नसीहत दी कि PM हों या सीएम, वे किसी के लिए भी गलत शब्दों का इस्तेमाल न करें.

राजस्थान के पोकरण में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि कांग्रेस इससे पहले पंजाब व कर्नाटक में भी कर्जा माफ कर चुकी है और इसकी पुष्टि जनता वहां के किसी भी किसान से कर सकती है. राहुल ने कहा कि मैं आपसे यहां झूठे वादे करने नहीं आया हूं. आप मेरी बात मत मानिए, यही बात मैंने पंजाब में की थी कि यही बात मैंने कर्नाटक में की थी. आप वहां फोन लगाकर पूछ लीलिए. सच झूठ का जवाब ले लीजिए.

उन्होंने कहा कि वह 15 लाख रुपये देने या हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात नहीं करेंगे, लेकिन 'जो आप मंच से सुन लेंगे या जो कुछ वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत या प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के मुंह से सुन लेंगे, वह हम करके दिखा देंगे. गांधी ने कहा कि  हमारा मुख्यमंत्री दिन के 18 घंटे युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए काम करेगा.

राहुल ने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने 15 लोगों के साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये माफ किए हैं, लेकिन हम करोड़ों युवाओं को लाखों रुपये का बैंक कर्ज दिलाएंगे. राहुल गांधी ने दावा किया वह किसी तरह के खोखले वादे नहीं करेंगे बल्कि जो कहेंगे उसे पूरा करेंगे.

उन्होंने कहा कि आपके और मेरे बीच सिर्फ सच्चाई का रिश्ता होना चाहिए. मैं जानता हूं कि अगर आप मुझ पर भरोसा करते हैं तो मेरे शब्दों का कुछ मतलब होना चाहिए. शब्दों का वजन होना चाहिए. इसीलिए मैं आपसे झूठे वादे नहीं करूंगा. गांधी ने कहा कि सच्चाई से भी बहुत काम किया जा सकता है और ऐसा केंद्र की पूर्ववर्ती संप्रग सरकार ने किया भी जिसने किसानों का कर्ज माफ किया और सच्चाई से मनरेगा जैसी योजनाएं बनाईं.

इसके साथ ही राहुल ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को 'शेर व बब्बर शेर' बताते हुए चुनाव में संयम बरतने की नसीहत दी. उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि एक बात याद रखिए कि आप कांग्रेस पार्टी के सिपाही हो, न कि भाजपा या आरएसएस के. इसलिए आप प्यार से लड़ेंगे, आप तमीज से लड़ेंगे चाहे  प्रधानमंत्री की बात हो चाहे मुख्यमंत्री की बात हो आप उनके बारे में तमीज से बोलेंगे और गलत शब्द का इस्तेमाल नहीं करेंगे. गाली देना गलत शब्द बोलना उनका काम है हमारा नहीं. पोकरण की यह सभा प्रत्याशियों की घोषणा के बाद राहुल की पहली रैली थी.

प्रधानमंत्री मोदी की कालेधन के खिलाफ लड़ाई पर तंज कसते हुए गांधी ने कहा कि आपने जनता की जेब से हजारों करोड़ रुपये निकाले और सीधे मेहुल चोकसी, नीरव मोदी, ललित मोदी की जेब में डाल दिए. यह है नरेन्द्र मोदी की कालेधन के खिलाफ लड़ाई. उन्होंने कहा कि ये लोग स्विस बैंक खातों से पैसा वापस लाने की बात कर रहे थे, लेकिन पता लगा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे का नाम ही पनामा पेपर्स में निकल आया.

To get latest update about Rajasthan elections SMS RJ to 52424 from your mobile . Standard  SMS Charges Applicable.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay