एडवांस्ड सर्च

हमले का जवाब देने में गोलियों की गिनती नहीं करेगा भारत: राजनाथ सिंह

बीएसएफ के जवानों के हौसले की तारीफ करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि इस जलते हुए रेगिस्तान में जिस तरह आप काम करते हो, हम आपकी बेहतरी के लिए और आपके हालात को ठीक करने में कोई कसर नही छोड़ेंगे. इन्फ्रास्ट्रक्चर और सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी.

Advertisement
aajtak.in
शरत कुमार जैसलमेर, 09 October 2016
हमले का जवाब देने में गोलियों की गिनती नहीं करेगा भारत: राजनाथ सिंह गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सीमा सुरक्षा का लिया जायजा

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को भारत पाकिस्तान सीमा पर बाड़मेर के मुनाबाव सीमा चौकी पर सीमा सुरक्षा बल के जवानो को संबोधित करते हुए पाकिस्तान को चेतावनी दी कि भारत कभी किसी पर आक्रमण नहीं करता. भारत की कभी यह नीति नहीं रही है कि हम दूसरे की जमीन पर कब्जा करें. हमारी तरफ अगर कोई बुरी निगाह डालेगा और हम पर आक्रमण करेगा तो फिर हमारे सैनिक ट्रिगर पर उंगली रख देते हैं. फिर हम बंदूक से निकली हुई गोलियों की गिनती नहीं करते हैं.

भारत हमेशा पूरी दुनिया को एक परिवार की तरह मानता हैं. बीएसएफ के जवानों के हौसले की तारीफ करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि इस जलते हुए रेगिस्तान में जिस तरह आप काम करते हो, हम आपकी बेहतरी के लिए और आपके हालात को ठीक करने में कोई कसर नही छोड़ेंगे. इन्फ्रास्ट्रक्चर और सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी.

बॉर्डर पर बढ़ाई जाएंगी सुविधाएं
उन्होंने बताया कि बॉर्डर पर भारत माला प्रोजेक्ट के तहत बॉर्डर के पेरलल नहीं सड़के बनाई जाएंगी. जिसे समयानुसार देखा व रिपेयर किया जाएगा. उन्होंने बताया कि लाइट भी रोड पर बॉर्डर के पेरलल खड़ी की जाएंगी जिससे बॉर्डर पेट्रोलिंग में सहायता मिल सके. मोबाइल कनेक्टिविटी को बॉर्डर पर सुधारा जाएगा. सेटेलाईट फोन बॉर्डर पर मुहैया करवाए जाएंगे. उन्होंने बताया कि बुलेट प्रूफ जेकेट की कमी को दूर किया जाएगा तथा जेकेट्स को हल्का बनाने की पूरी कोशिश की जाएगी. उन्होंने सीमा चौकियों पर पीने के पानी की कमी पर कहा कि हर बीओपी को पाइप लाइन से जोड़ेंगे.

जवानों के हौसले की तारीफ की
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जिस तरह किसान अपनी जान लगाकर अपने खेत की हिफाजत करता है. उसी तरह सीमा सुरक्षा बल के जवान भी देश की हिफाजत में जुटे हैं. एक दिवसीय दौरे पर मुनाबाव पहुंचे गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सैनिक सम्मेलन के दौरान जवानों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि यह बेहद खुशी की बात है कि सरहद पर सुरक्षा व्यवस्था संतोषप्रद है. उन्होंने जवानों की समस्याएं जानने के साथ केन्द्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद करने का भरोसा दिलाया. इससे पूर्व केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. केन्द्रीय गृह मंत्री सिंह ने मुनाबाव दौरे के दौरान सीमा सुरक्षा बल केअधिकारियों से सुरक्षा व्यवस्था संबंधित जानकारी भी ली.

गृह मंत्री के साथ कई नेता रहे मौजूद
मुनाबाव में उन्होंने सैनिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए जवानों की हौसला अफजाई की. इस दौरान केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू, राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया, सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक केके शर्मा, बाड़मेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी, सीमा सुरक्षा बल के महानिरीक्षक अजय कुमार तोमर, महानिरीक्षक पुलिस हवासिंह घुमरिया, उप महानिरीक्षक एमपीएस भाटी, बाड़मेर सेक्टर के उप महानिरीक्षक प्रतुल गौतम, जिला कलक्टर सुधीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला, बायतू विधायक कैलाश चौधरी समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे.

गौरतलब हैं कि शुक्रवार को गृह मंत्री ने मुरार सीमा चौकी का मुआयना किया था. उन्होंने जैसलमेर में एक हाई लेवल मीटिंग का नेतृत्व किया जिसमें 4 राज्यों के मंत्रियों व ऑफिसरों ने हिस्सा लिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay