एडवांस्ड सर्च

हवालात तोड़कर पपला को भगाने के मामले में तीन और गिरफ्तार

मामले में अब तक कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. यही नहीं पपला को पकड़ने के लिए राजस्थान पुलिस और हरियाणा पुलिस साथ मिलकर बॉर्डर के इलाकों में अभियान चला रही हैं.

Advertisement
aajtak.in
शरत कुमार / देव अंकुर अलवर, 11 September 2019
हवालात तोड़कर पपला को भगाने के मामले में तीन और गिरफ्तार गिरफ्तार आरोपी

  •  गिरफ्तार आरोपी कोर्ट में पेश, कोर्ट ने 2 दिन की रिमांड दी, पूछताछ जारी
  • राजस्थान-हरियाणा पुलिस साथ मिलकर बॉर्डर के इलाकों में चला रही अभियान

अलवर जिले के बहरोड़  थाने पर एके 47 से फायरिंग कर  विक्रम पपला को फरार करवाने वाले गिरोह के तीन अपराधियों को SOG ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक एसओजी ने आज जगन खटाणा, सुभाष और महिपाल गुर्जर को गिरफ्तार किया है. आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया. जहां कोर्ट ने उन्हें 2 दिन की रिमांड पर भेज दिया है.

मामले में अब तक कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. यही नहीं पपला को पकड़ने के लिए राजस्थान पुलिस हरियाणा पुलिस के साथ मिलकर बॉर्डर के इलाकों में अभियान चला रही है.

एसओजी के एएसपी करण शर्मा ने बताया कि बहरोड़ थाने में फायरिंग कर पपला गुर्जर को छुड़ाने के मामले में अहम भूमिका निभाने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. एसओजी की टीम ने इन आरोपियों को पलवल से गिरफ्तार किया है. लॉकअप से भागने के बाद पपला गुर्जर ने इन्हीं आरोपियों की मदद से पहली रात गुजारी थी.

वहीं पुलिस का कहना है कि जेल से भागने के बाद पपला किस जगह गया, उसकी मूवमेंट किस ओर रही, इन आरोपियों से पूछताछ के दौरान यह खुलासा हो सकता है. पुलिस ने अब तक पपला गुर्जर को सहयोग देने वाले कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. तीन आरोपियों को एसओजी ने मंगलवार को पकड़ा है, वहीं दो अन्य आरोपियों को एसओजी टीम पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

पुलिस ने पहले विनोद स्वामी और कैलाश चंद को गिरफ्तार किया था. उनसे पूछताछ में पुलिस को कई अहम जानकारियां हाथ लगी हैं. बहरोड़ के पास शाहजहांपुर थाना एसओजी और एटीएस का केन्द्र बनाया गया है. जयपुर रेंज आईजी एस. सेंगाथिर ने थाने में पहुंचकर गोपनीय तरीके से जांच की. शाहजहांपुर थाने में पपला गुर्जर को भगाने के मामले में 7-8 आरोपियों को हिरासत में ले रखा है, जिनसे गहन पूछताछ की जा रही है.

अलवर जिले के बहरोड़ में फायरिंग कर लॉकअप को तोड़कर विक्रम पपला को भगाने के मामले में गिरफ्तार 3 आरोपियों जगन खटाणा, महिपाल गुर्जर ओर सुभाष गुर्जर को आज बहरोड़ के  मजिस्ट्रेट के आवास पर पेश किया गया. जहां मजिस्ट्रेट आशुतोष की अदालत ने आरोपियों को 2 दिन के रिमांड पर एसओजी को सौंप दिया है. एसओजी पूर्व में दो आरोपियों विनोद स्वामी ओर कैलाश गुर्जर को गिरफ्तार कर चुकी है जो फिलहाल 12 सितंबर तक एसओजी की रिमांड पर हैं. आरोपियों से पूछताछ की जा रही है.

6 लोगों पर इनाम की घोषणा

इस मामले में राजस्थान पुलिस ने 6 लोगों के बारे में जानकारी पर 50–50 हजार रुपये के इनाम की घोषणा भी की है. जानकारी देने पर 50 हजार रुपये का इनाम मिलेगा. जिन लोगों के ऊपर इनाम की घोषणा की गई है उनके नाम आकाश यादव, धर्मवीर, अशोक, दीक्षांत, दिनेश और सोमदत्त हैं.

राजस्थान पुलिस में एडीजी, एटीएस और एसओजी, अनिल पालीवाल ने इनाम की घोषणा की. पपला गुर्जर उर्फ विक्रम को भगाने में इन 6 लोगों का हाथ बताया जा रहा था. बहरोड़ थाने में फायरिंग मामले में दो हेड कॉन्स्टेबल को बर्खास्त कर दिया गया था और थाने का स्टाफ लाइन हाजिर कर नए पुलिसकर्मी लगाए गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay