एडवांस्ड सर्च

भारत बंद: नीमराणा में पुलिस और मजदूरों में टकराव, कई जख्मी

अलवर जिले में स्थित नीमराणा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी ने बताया कि उत्तेजित मजदूरों को तितर बितर करने के लिये पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया और आंसू गैस के 35 गोले छोड़े. मजदूरों की ओर से की गई पत्थरबाजी में पुलिस अधिकारियों सहित 22 पुलिस कर्मी घायल हो गये.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: पन्ना लाल]नई दिल्ली, 08 January 2019
भारत बंद: नीमराणा में पुलिस और मजदूरों में टकराव, कई जख्मी फोटो- आजतक

राजस्थान के नीमराणा में मंगलवार को हड़ताल कर रहे मजदूरों की पुलिस से भिड़ंत हो गयी. पुलिस का कहना है कि डायकिन कंपनी के मजदूरों ने कारखाने के मुख्यद्वार पर यूनियन का झंडा लगाने और जबरन अंदर घुसने के प्रयास किया. पुलिस ने उग्र मजदूरों को तीतर- बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोडे और लाठीचार्ज किया. पुलिस के अनुसार इस घटनाक्रम में कुछ अधिकारियों सहित 22 पुलिसकर्मी घायल हो गए. वहीं श्रमिक संगठनों का कहना है कि बड़ी संख्या में घायल मजदूरों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

अलवर जिले में स्थित नीमराणा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी ने बताया कि उत्तेजित मजदूरों को तितर- बितर करने के लिये पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया और आंसू गैस के 35 गोले छोड़े. मजदूरों की ओर से की गई पत्थरबाजी में पुलिस अधिकारियों सहित 22 पुलिस कर्मी घायल हो गये. त्रिपाठी ने बताया कि करीब 800 उत्तेजित मजदूरों ने डाइकिन कंपनी के परिसर में जबरन घुसने की कोशिश. पुलिस ने उन्हें रोका तो मजदूर उत्तेजित हो गये और उन्होंने पुलिस पर पत्थरबाजी की और गाडियों में तोडफोड की. पत्थरबाजी में पुलिस के आला अधिकारियों सहित 22 पुलिसकर्मी घायल हो गये.

उन्होंने बताया कि आरोपियों को पहचानने का प्रयास किया जा रहा है जिसके बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा. वहीं सीटू के प्रदेश सचिव भंवर सिंह शेखावत के अनुसार नीमराणा में पुलिस कार्रवाई में लगभग 50 मजदूर घायल हुए हैं. इनमें गंभीर रूप से घायल दो-तीन मजदूरों को जयपुर रेफर किया गया है. सीटू से ही जुड़े अनिल यादव ने नीमराणा से बताया कि कंपनी के बुलाए बाउंसरों ने पथराव कर माहौल को बिगाड़ा और उसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया. जयपुर में देशव्यापी हड़ताल के पहले दिन औद्योगिक क्षेत्रों में मजदूरों ने हड़ताल रखी और सभी मजदूर शहीद स्मारक पर एकत्र हुए.

इस हड़ताल और कार्यक्रम में सीटू इंटक ,एटक ,एचएमएस ,बैंक, एलआईसी ,केंद्रीय कर्मचारियों, रेलवे, रोडवेज सहित अनेक संगठनों ने भाग लिया. इस अवसर पर पर सीटू के राजस्थान के नेता रमेश चतुर्वेदी और अखिल भारतीय किसान सभा के नेता गुरचरण सिंह मोड़ ने श्रमिकों को संबोधित किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay