एडवांस्ड सर्च

राणा गुरजीत के समर्थन में आए किसान, AAP के खिलाफ की नारेबाजी

बाजपुर के किसानों ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राणा गुरजीत के पक्ष में अपने बयान दिये और आम आदमी पार्टी के पंजाब के नेता सुखपाल खैरा के खिलाफ नारेबाजी की.

Advertisement
सतेंदर चौहान [Edited By: सुरभि गुप्ता]नई दिल्ली, 04 June 2017
राणा गुरजीत के समर्थन में आए किसान, AAP के खिलाफ की नारेबाजी आम आदमी पार्टी

रेत की खानों की नीलामी के विवाद में फंसे पंजाब के कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत आम आदमी पार्टी के निशाने पर हैं. आम आदमी पार्टी ने राणा गुरजीत के इस्तीफे की मांग को लेकर पूरे पंजाब में प्रदर्शन करने का ऐलान किया है.

किसानों का पैसा दबाने का आरोप
आम आदमी पार्टी के नेता सुखपाल खैरा कांग्रेस सरकार के मंत्री राणा गुरजीत को लेकर रोजाना ही नये खुलासे कर रहे हैं. ताजा मामले में सुखपाल खैरा ने राणा गुरजीत पर उत्तर प्रदेश में उनकी शुगर मिल्स में किसानों का पैसा दबाने और 200 करोड़ के डिफॉल्टर होने का आरोप लगाया.

मंत्री के समर्थन में यूपी के किसान संगठन
ये आरोप लगा तो राणा गुरजीत के पक्ष में उत्तर प्रदेश के बाजपुर से कई किसान संगठन के किसान चंडीगढ़ पहुंच गए और सुखपाल खैरा के खिलाफ नारेबाजी की. इन किसानों ने कहा कि राणा गुरजीत ने किसी भी किसान का कोई पैसा नहीं दबाया है और सिर्फ 52 करोड़ की रकम ही उन पर किसानों को देने के लिए बकाया है.

AAP के खिलाफ नारेबाजी
बाजपुर के किसानों ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राणा गुरजीत के पक्ष में अपने बयान दिये और आम आदमी पार्टी के पंजाब के नेता सुखपाल खैरा के खिलाफ नारेबाजी की.

वहीं सुखपाल खैरा ने इन सब किसानों को राणा गुरजीत का भाड़े का बताया और कहा कि डिफॉल्टर तो डिफॉल्टर होता है. भले ही वो 52 करोड़ का डिफॉल्टर हो या 200 करोड़ का लेकिन वो होता डिफॉल्टर ही है और राणा गुरजीत यूपी के बाजपुर के डिफॉल्टर हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay