एडवांस्ड सर्च

पठानकोट हमले के बाद जागी पंजाब सरकार, सुखबीर बादल बोले- बढ़ाई जाए सेना

'आज तक' से खास बातचीत में सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के मुकाबले पंजाब में सैनिकों की संख्या काफी कम है और आतंकवाद का खतरा बढ़ा है.

Advertisement
aajtak.in
ब्रजेश मिश्र/ राहुल कंवल चंडीगढ़, 07 January 2016
पठानकोट हमले के बाद जागी पंजाब सरकार, सुखबीर बादल बोले- बढ़ाई जाए सेना

पंजाब के उपमुख्यमंत्री और राज्य के गृह मंत्री सुखबीर सिंह बादल ने पंजाब सीमा पर सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवानों की संख्या बढ़ाने की मांग की है. गुरदासपुर और पठानकोट में हुए आतंकी हमलों के बाद उन्होंने राज्य की सुरक्षा के लिहाज से यह मांग उठाई है.

'आज तक' से खास बातचीत में बादल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के मुकाबले पंजाब में सैनिकों की संख्या काफी कम है. राज्य की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्होंने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर जल्द से जल्द सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ाने की मांग की है.

पुलिस का बचाव किया
पठानकोट हमले से पहले आतंकियों के चंगुल में फंसे गुरदासपुर के एसपी सलविंदर सिंह को लेकर डिप्टी सीएम ने कहा कि उनके गैरजिम्मेदाराना व्यवहार के कारण उनसे पूछताछ की जा रही है. हालांकि उन्होंने एसपी को संदिग्ध कहे जाने से इनकार किया है. उन्होंने पंजाब पुलिस पर लापरवाही बरतने के आरोपों को भी खारिज कर दिया.

उन्होंने कहा, 'रात में करीब साढ़े तीन बजे सलविंदर ने आतंकियों के संबंध में पुलिस को सूचना दी और 7 बजे इसकी सूचना केंद्र सरकार को दी गई. इस दौरान पंजाब पुलिस के सीनियर अधिकारी पहले ही पठानकोट के लिए रवाना हो चुके थे. यह कहना उचित नहीं होगा कि पुराने रिकॉर्ड की वजह से सलविंदर को गंभीरता से नहीं लिया गया. कई अधिकारियों के खिलाफ शिकायतों पर जांच चल रही है. देश की सुरक्षा का मुद्दा सबसे अलग है.'

सुखबीर ने की PM मोदी की तारीफ
पाकिस्तान के साथ संबंध सुधारने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों की तारीफ करते हुए बादल ने कहा, 'पीएम मोदी ने बहुत ही बड़ी शासन कला का परिचय दिया है. बीते कई सालों में ऐसा पहली बार हुआ कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने भारत के पीएम को फोन करके आतंकवादी घटना पर खेद जताया हो और दोषियों को सजा देने का वादा किया हो. ऐसा पहले कभी नहीं हुआ क्योंकि जिस तरह मोदी पाकिस्तान जाकर नवाज शरीफ से मिले हैं वह दोनों देशों के रिश्ते सुधारने का बड़ा प्रयास है.'

ड्रग्स तस्करी पर भी किया बचाव
राज्य में ड्रग माफिया के बढ़ते असर पर सुखबीर बादल ने सरकार का बचाव किया और कहा कि पंजाब को ड्रग्स तस्करी का केंद्र कहना सही नहीं है. उन्होंने कहा कि पंजाब के मुकाबले गोवा, दिल्ली और मुंबई में ड्रग्स की उपलब्धता ज्यादा है. उन्होंने कहा कि सरकार आतंकवाद और ड्रग दोनों का सफाया करने का प्रयास करेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay