एडवांस्ड सर्च

पंजाब में आतंकवाद फैलाने के आरोपों पर बोली कांग्रेस- यह सुखबीर बादल की हताशा है

पंजाब के डिप्टी CM सुखबीर सिंह के राहुल गांधी और कांग्रेस पर पंजाब में आतंकवाद को बढ़ावा देने और खलिस्तान को समर्थन करने के इल्जाम पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.कांग्रेस की तरफ से पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने बादल के इतिहास ज्ञान पर सवाल उठाया तो पुर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने इसे बादल की हताशा बताई.

Advertisement
aajtak.in
आदर्श शुक्ला नई दिल्ली/चंडिगढ़, 22 November 2015
पंजाब में आतंकवाद फैलाने के आरोपों पर बोली कांग्रेस- यह सुखबीर बादल की हताशा है कैप्टन अमरिंदर (फाइल फोटो)

पंजाब के डिप्टी CM सुखबीर सिंह के राहुल गांधी और कांग्रेस पर पंजाब में आतंकवाद को बढ़ावा देने और खलिस्तान को समर्थन करने के इल्जाम पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.कांग्रेस की तरफ से पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने बादल के इतिहास ज्ञान पर सवाल उठाया तो पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने इसे बादल की हताशा बताई.

खुर्शीद ने कहा, 'मै नहीं समझ पा रहा हूँ क्या उनको इतिहास का गान नहीं है? वो न देश का सम्मान करते हैं न ही सत्य का आदर. कोई खालिस्तानी हो या फिर न हो संवाद होना चाहिए.' पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी बादल पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा, 'बादल अपनी असफलताओं से फ्रस्ट्रेट हो चुके हैं. वो अपनी असफलताएं हमारे सर पर मढ़ रहे हैं. हमें देशभक्ति का सबक बादल से सीखने की जरूरत नहीं है.

गौरतलब है कि पंजाब के डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए उसे आतंकियों का सहयोगी बताया था. उन्होंने आरोप लगाए कि कांग्रेस पंजाब में 80 के दशक जैसा माहौल बनाना चाह रही है.

आतंकियों के हाथों में खेल रहे हैं राहुल
पंजाब के डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए कांग्रेस पर गंभीर आरोपों की झड़ी लगा दी. बादल ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आतंकियों के हाथों में खेल रहे हैं. बादल ने पंजाब के कुछ कांग्रेसी विधायकों पर आरोप लगाया कि उन्होंने 10 नवंबर को एक रैली में भाग लेकर खालिस्तान के समर्थन में प्रस्ताव पास किया.


 

'संविधान जलाने वाले न दें देशभक्ति का ज्ञान'
अमरिंदर ने कहा कि खलिस्तान के समर्थन में भारत का संविधान जलाने वाले मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की पार्टी के लोग तो कांग्रेस को देशभक्ति न ही सिखाएं. हाल ही में हुए सरबत खालसा के आयोजन का जिक्र करते हुए कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि वहां भारी संख्या में लोगों की मौजूदगी बादल के खिलाफ बढ़ते गुस्से का प्रतीक थी. सुखबीर बादल ने सरबत खालसा में देशविरोधी प्रस्तावों के पारित होने का आरोप लगाया था. इस आरोप पर बादल ने पलटवार करते हुए कहा, इस दौरान वो क्या कर रहे थे. उप मुख्यमंत्री होने के नाते उन्हें इसे रोकना चाहिए था.

 

राहुल गांधी का बचाव करते हुए कैप्टन अमरिंदर ने कहा, 'राहुल जब पंजाब के गांव-गांव घूम रहे थे तो लोगों ने बाहें खोलकर उनका स्वागत किया. बादल के गांव में भी राहुल गांधी का शानदार स्वागत हुआ. बादल कांग्रेस की लोकप्रियता से डरे हुए हैं.उन्होंने कहा एक हफ्ते पहले ही बादल ने पंजाब में फैली गड़बड़ियों के लिए ISI को जिम्मेदार ठहराया था और अब अचानक उन्हें कांग्रेस दोषी दिखने लगी है.' उन्होंने सरबत खालसा आयोजन में कांग्रेसी नेताओं के जाने का बचाव करते हुए कहा कि यह एक धार्मिक आयोजन था जिसमें अन्य पार्टियों के नेता भी शामिल हुए थे.

बादल के समर्थन में BJP

सरबत खालसा के आयोजन का बचाव करते हुए कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि इस आयोजन को बादल सरकार खलिस्तान समर्थन का लेबल चिपकाने में जुटी है जबकि यह वर्तमान सरकार के खिलाफ लोगों के गुस्से का प्रतीक है.

सरबत खालसा में कांग्रेसी नेताओं की मौजूदगी पर बादल ने कहा कि यह एक धार्मिक आयोजन था. इसमें बीएसपी और आम आदमी पार्टी के नेताओं ने भी शिरकत की थी. दूसरी तरफ अपने सहयोगी दल के समर्थन में बीजेपी भी कूद पड़ी है. बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने बादल के आरोपों पर कहा, पंजाब में पिछले कुछ समय से माहौल काफी खराब हो रहा है. बादल ने तथ्यों के आधार पर ही आरोप लगाए होंगे.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay