एडवांस्ड सर्च

PMC बैंक घोटाला: राकेश और सारंग वधावन की रिमांड 24 अक्टूबर तक बढ़ी

पीएमसी बैंक घोटाले से जुड़े मामले में एचडीआईएल के दो प्रमोटरों-राकेश वधावन और सारंग वधावन के रिमांड की अवधि 24 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई है. पीएमएलए (प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट) कोर्ट ने यहां मंगलवार को ये आदेश दिया.

Advertisement
aajtak.in
दिव्येश सिंह मुंबई, 22 October 2019
PMC बैंक घोटाला: राकेश और सारंग वधावन की रिमांड 24 अक्टूबर तक बढ़ी प्रतीकात्मक फोटो (फाइल)

  • राकेश और सारंग को ED ने 18 अक्टूबर को किया था गिरफ्तार
  • पीएमएलए कोर्ट ने दोनों को 22 अक्टूबर तक रिमांड पर दिया था

पीएमसी बैंक घोटाले से जुड़े मामले में एचडीआईएल के दो प्रमोटरों-राकेश वधावन और सारंग वधावन के रिमांड की अवधि 24 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई है. पीएमएलए (प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट) कोर्ट ने यहां मंगलवार को ये आदेश दिया.  

राकेश और सारंग वधावन को ED (प्रवर्तन निदेशालय) ने 18 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था. साथ ही कोर्ट में पेश कर रिमांड की मांग की थी. पीएमएलए कोर्ट ने तब दोनों को 22 अक्टूबर तक रिमांड पर दिया था.  

रिमांड बढ़ाने की मांग करते हुए कहा गया कि ED अधिकारियों ने जांच के दौरान ऐसी 50 संपत्तियों की पहचान की है जिन्हें HDIL के राकेश और सारंग वधावन ने खरीदा हुआ था.

अभियोजन ने कोर्ट को ये भी बताया था कि ऐसी संभावना है HDIL ने अपराध की कमाई से इन संपत्तियों को खरीदा और बेच दिया. इन सब की पहचान करने और पता लगाने की ज़रूरत है. ये उन चश्मदीदों के बयानों से सामने आया है जो HDIL के कर्मचारी हैं.  

अभियोजन ने अभियुक्तों से पूछताछ के लिए रिमांड और बढ़ाने की मांग करते हुए ये दलील दी कि वो पूछताछ में सहयोग नहीं दे रहे हैं. साथ ही ये पता लगाना ज़रूरी है कि संपत्ति खरीदने, लॉकर और निवेश के अलावा और कैसे अपराध की कमाई की लॉन्ड्रिंग की गई.

बचाव पक्ष के वकील अमित देसाई ने रिमांड बढ़ाने की मांग का विरोध किया. देसाई ने कहा कि पुरानी रिमांड रिपोर्ट और कोर्ट में मंगलवार को जो पेश किया गया, उसमें नया कुछ भी नहीं है. देसाई के मुताबिक मुंबई पुलिस के आर्थिक अपराध विंग (EOW) ने भी रिमांड की मांग करते हुए यही सब कहा था.

देसाई ने कोर्ट को बताया कि बैंक के पास गिरवी संपत्तियों का मूल्य लिए गए 1600 से 1800 करोड़ रुपए के मूल कर्ज़ की रकम (प्रिंसिपल अमाउंट) से कहीं ज्यादा है. इस पर अभियोजन की ओर से कहा गया मूल कर्ज़ की रकम 2500 करोड़ रुपए है. दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने राकेश और सारंग वधावन की रिमांड दो दिन के लिए यानि 24 अक्टूबर तक बढ़ा दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay