एडवांस्ड सर्च

झंडे का रंग बदलने पर उद्धव ने राज ठाकरे पर किया तंज, कहा- हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा है. उन्होंने MNS प्रमुख राज ठाकरे पर भी तंज कसा. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपना भगवा झंडा नहीं बदला. मेरा रंग अंदर और बाहर दोनों समान है.

Advertisement
aajtak.in
कमलेश सुतार मुंबई, 24 January 2020
झंडे का रंग बदलने पर उद्धव ने राज ठाकरे पर किया तंज, कहा- हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा सीएम उद्धव ठाकरे ने राज ठाकरे पर साधा निशाना (फाइल फोटो)

  • उद्धव ने कहा- मेरा अंदर-बाहर रंग एक समान है
  • सिर्फ उद्धव ठाकरे नहीं, उद्धव बाला साहेब ठाकरे हूं

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बाला साहेब ठाकरे की जयंती पर मुंबई में एक सभा को संबोधित किया. हिंदू भाइयों और बहनों के साथ अपने भाषण की शुरुआत करने वाले उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा है. इस दौरान उन्होंने अपने चचेरे भाई और MNS प्रमुख राज ठाकरे पर भी तंज कसा. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपना भगवा झंडा नहीं बदला. मेरा रंग अंदर और बाहर दोनों समान है.

ये भी पढ़ें: कहां पैदा हुए साईं बाबा? सबूतों के साथ कोर्ट जाएंगे पाथरी के ग्रामीण

NCP और कांग्रेस के साथ सरकार बनाने वाली शिवसेना पर बीजेपी हिंदुत्व के मुद्दे पर निशाना साध चुकी है. उद्धव ठाकरे ने कहा कि 2014 में ऐसी चर्चाएं थीं कि हम कांग्रेस के साथ जाना चाहते थे, ऐसा इसलिए था क्योंकि बीजेपी ने एक हिंदुत्व सहयोगी के साथ संबंध तोड़ लिए थे.

बता दें कि 2014 के विधानसभा चुनाव में 125 सीट जीतने वाली बीजेपी एनसीपी के समर्थन से सरकार बनाई थी. एनसीपी ने सरकार को बाहर से समर्थन दिया था. हालांकि बाद में शिवसेना बीजेपी के साथ गठबंधन कर सरकार में शामिल हो गई थी. 

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र: भगवा, सावरकर और शिवाजी, उद्धव से हिंदुत्व की निशानी छीनेंगे राज ठाकरे?

उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि मैं जिम्मेदारी से कभी नहीं भागूंगा. मैं विश्वास दिलाता हूं कि यह वादे पूरा करने की शुरुआत है. सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि मैंने जिम्मेदारी स्वीकार कर ली, क्योंकि हमारे दोस्त ने हमें बालासाहेब के कमरे में एक वादा किया जो एक मंदिर की तरह है और यह साबित करने की कोशिश की कि मैं एक झूठा हूं. लेकिन मैं सिर्फ उद्धव ठाकरे नहीं बल्कि उद्धव बाला साहेब ठाकरे हूं. मैंने उन लोगों के साथ जाने का फैसला लिया, जिनके खिलाफ हमने 25 साल तक लड़ाई लड़ी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay