एडवांस्ड सर्च

NCP में शामिल हुए 5 पार्षद वापस शिवसेना में लौटे, उद्धव ठाकरे ने जताई थी नाराजगी

इस मामले में सीएम उद्धव ठाकरे की नाराजगी को देखते हुए उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने सीएम से मुलाकात की और विवाद सुलझाने का प्रयास किया.

Advertisement
aajtak.in
कमलेश सुतार मुंबई, 08 July 2020
NCP में शामिल हुए 5 पार्षद वापस शिवसेना में लौटे, उद्धव ठाकरे ने जताई थी नाराजगी महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे

  • पारनेर के 5 शिवसेना पार्षद NCP में चले गए थे
  • इस पर CM उद्धव ठाकरे ने जताई थी नाराजगी

महाराष्ट्र के महाविकास आघाडी सरकार में आपसी मतभेद के किस्से आए दिन सामने आ रहे हैं. अहमदनगर जिले के पारनेर के 5 शिवसेना पार्षद एक सप्ताह के अंदर बुधवार को पार्टी में वापस लौट आए हैं. ये सभी पार्षद NCP में चले गए थे.

इस मामले में सीएम उद्धव ठाकरे की नाराजगी को देखते हुए उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने सीएम से मुलाकात की और विवाद सुलझाने का प्रयास किया. इसके पहले डीसीपी स्तर के ट्रांसफर को लेकर एनसीपी और शिवसेना में ठन गई थी.

बता दें कि 2 जुलाई को डीसीपी स्तर के 10 अफसरों का ट्रांसफर ऑर्डर जारी किया गया था, लेकिन रविवार को उसे पुलिस कमिश्नर ऑफिस ने वापस ले लिया. बताया गया कि गृह विभाग की ओर से ट्रांसफर ऑर्डर को मंजूरी दी गई थी, लेकिन मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएम ऑफिस) को लूप में नहीं लिया गया.

सीएम उद्धव से मिलने मातोश्री पहुंचे पवार, जानिए क्यों है शिवसेना-एनसीपी में तकरार

इस घटनाक्रम से जुड़े एक सूत्र ने यहां तक ​​कहा था कि ट्रांसफर के बारे में सीएम ऑफिस को कोई जानकारी नहीं थी और इसे गृह विभाग ने मंजूरी दी थी. महाराष्ट्र में गृह मंत्रालय एनसीपी के पास है और गृह मंत्री अनिल देखमुख हैं.

इस ट्रांसफर ऑर्डर को मुख्यमंत्री (उद्धव ठाकरे) के ध्यान में लाया गया जिसके बाद इस ऑर्डर को रद्द कर दिया गया था. हालांकि बुधवार को शिवसेना के मुखपत्र सामना में कहा गया कि महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महा विकास आघाड़ी के सहयोगियों में कोई मतभेद नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay