एडवांस्ड सर्च

महाराष्ट्र में बनी बात! शिवसेना का ही होगा CM, 14-14-12 के फॉर्मूले पर होंगे मंत्री

महाराष्ट्र में सरकार बनने का रास्ता साफ हो गया है. सूत्रों के अनुसार, लंबी कवायद के बाद शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच सरकार बनाने को लेकर समझौता हो गया है. समझौते के तहत शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा.

Advertisement
aajtak.in
राजदीप सरदेसाई मुंबई, 15 November 2019
महाराष्ट्र में बनी बात! शिवसेना का ही होगा CM, 14-14-12 के फॉर्मूले पर होंगे मंत्री शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फाइल)

  • शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा
  • कांग्रेस-एनसीपी के खाते में उपमुख्यमंत्री पद भी आएंगे
  • एनसीपी को 14 तो कांग्रेस 12 मंत्री पद दिए जाएंगे-सूत्र

महाराष्ट्र में सरकार बनने का रास्ता साफ हो गया है. सूत्रों के अनुसार, लंबी कवायद के बाद शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच सरकार बनाने को लेकर समझौता हो गया है. समझौते के तहत शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा. कांग्रेस और एनसीपी के खाते में एक-एक उपमुख्यमंत्री पद आएगा.

सूत्रों के अनुसार, सरकार बनाने को लेकर महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच लगातार बातचीत चल रही है. तीनों दलों के बीच कॉमन मिनिमम प्रोग्राम (सीएमपी) को लेकर सहमति बन गई है. इस समझौते के तहत शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा, जबकि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को 14 और कांग्रेस को 12 मंत्रीपद मिलेगा. खुद शिवसेना के खाते में भी मुख्यमंत्री पद के अलावा 14 मंत्री पद भी आएंगे.

सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की मांग

सूत्रों के अनुसार, इस हफ्ते कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और एनसीपी नेता शरद पवार के बीच मुलाकात हो सकती है.

हालांकि तीनों दलों के बीच हुए समझौते में हिंदुत्व के मुद्दा को शामिल नहीं किया गया है. सीएमपी पर किसानों और युवाओं से जुड़े मामलों पर फोकस करने पर भी सहमति बनी है. कुछ मामले ऐसे हैं जिन पर आपसी रजामंदी नहीं बन सकी है.

समझौते में शिवसेना ने विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की मांग की है तो वहीं कांग्रेस-एनसीपी मुसलमानों को 5 फीसदी आरक्षण देने की मांग कर रही है. माना जा रहा है कि इन दोनों मुद्दों पर विवाद बना हआ है.

'जय श्री राम, हो गया काम'

महाराष्ट्र में भले ही इस समय राष्ट्रपति शासन लगा हो, लेकिन सरकार बनाने के लिए जोर आजमाइश अभी भी जारी है. कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना की बैठक के इतर गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की कोर कमेटी की बैठक हुई.

इस अहम बैठक में हिस्सा लेने के बाद बीजेपी भाजपा नेता आशीष शेल्लार जब बाहर आए तो उन्होंने मीडिया से सिर्फ इतना कहा, ‘...जय श्री राम, हो गया काम’.

बीजेपी कोर कमेटी की बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के अलावा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल, पंकजा मुंडे, गिरीश महाजन और आशीष शेल्लार समेत पार्टी के कई नेता शामिल रहे. अधिकतर नेता बैठक खत्म होने के बाद खुश नजर आए, लेकिन आशीष शेल्लार के इस बयान ने सुर्खियां बटोर लीं.

अब ऐसे में आशीष शेल्लार के इस बयान से कई कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या भाजपा को जिस जादुई नंबर की जरूरत थी, वह मिल गया है? क्या भाजपा सरकार बनाने की ओर कदम बढ़ा रही है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay