एडवांस्ड सर्च

इकबाल मिर्ची के करीबी हुमायुं मर्चेंट को ईडी ने किया गिरफ्तार

प्रवर्तन निदेशालय ने मंगलवार को इकबाल मिर्ची के करीबी हुमायुं मर्चेंट को गिरफ्तार कर लिया. उसके पास ही इकबाल मिर्ची की पावर ऑफ अटॉर्नी है.

Advertisement
aajtak.in
मुनीष पांडे मुंबई, 22 October 2019
इकबाल मिर्ची के करीबी हुमायुं मर्चेंट को ईडी ने किया गिरफ्तार हुमायुं मर्चेंट गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

  • इकबाल मिर्ची का करीबी हुमायुं मर्चेंट गिरफ्तार
  • इकबाल मिर्ची की पावर ऑफ अटॉर्नी हुमायुं के पास

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद के करीबी इकबाल मिर्ची पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का शिकंजा कसता जा रहा है. ईडी ने मंगलवार को इकबाल मिर्ची के करीबी हुमायुं मर्चेंट को गिरफ्तार कर लिया. उसके पास ही इकबाल मिर्ची की पावर ऑफ अटॉर्नी है. अब उसे दोपहर 1 बजे मुंबई के कोर्ट में पेश किया जाएगा.

बता दें ईडी पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल के साथ भगोड़े अंडरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर के करीबी रहे इकबाल मिर्ची के कथित संपत्ति सौदों की जांच के क्रम में विवादित 15 मंजिला सीजे हाउस को कुर्क करने की तैयारी में है. इससे पहले ईडी ने शुक्रवार को मिर्ची के परिजनों और पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता पटेल से मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी.

जांच से जुड़े ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक पूछताछ के दौरान पटेल ने स्वीकार किया कि उन्होंने मिर्ची के परिवार के सदस्यों के साथ सौदे किए थे. अधिकारी ने बताया कि एजेंसी को दिए अपने बयान में एनसीपी नेता ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि इकबाल मेमन उर्फ इकबाल मिर्ची ही वही आदमी था.

कुर्क होगा सीजे हाउस

अधिकारी ने यह भी बताया कि पटेल ने वित्तीय जांच एजेंसी से अपने बयान में कहा है कि मिलेनियम डेवलपर्स के बीच उनके और उनकी पत्नी वर्षा द्वारा नियंत्रित सौदे को एक रिश्तेदार द्वारा अंतिम रूप दिया गया था, जिनकी कुछ साल पहले मौत हो चुकी है.

अधिकारी ने कहा कि आने वाले दिनों में ईडी धनशोधन निरोधक अधिनियम-2002 (मनी लॉन्ड्रिंग) के तहत सीजे हाउस को कुर्क करेगा, क्योंकि एजेंसी का मानना है कि मिर्ची के परिवार ने इस प्रॉपर्टी के लिए जुर्म की रकम का इस्तेमाल किया है.

क्या है मामला?

पिछले हफ्ते हालांकि एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए पटेल ने दावा किया कि मिर्ची की पत्नी हाजरा मेमन को एम.के. मोहम्मद के माध्यम से सीजे हाउस में दो मंजिलें मिली थीं. मोहम्मद ने इस संपत्ति में एक रेस्टोरेंट था, जो पहले से ही कानूनी विवादों में रहा है.

प्रफुल्ल पटेल जांच के घेरे में

ईडी अंडरवल्र्ड डॉन के करीबी सहयोगी मिर्ची के कथित संबंधों की जांच कर रहा है, जिसकी 2013 में लंदन में मौत हो गई थी. एजेंसी को ऐसे दस्तावेज मिले हैं, जिसमें पता चला है कि पटेल और उनकी पत्नी ने कथित रूप से मिर्ची के स्वामित्व वाले एक भूखंड पर 15 मंजिला इमारत का निर्माण किया.

ईडी ने मिर्ची व उसके परिवार की भारत के साथ ही संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और यूनाइटेड किंगडम (यूके) में स्थित कई संपत्तियों की पहचान की है. संपत्ति अपराध के धन से खरीदे जाने का संदेह है.

(IANS इनपुट के साथ)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay