एडवांस्ड सर्च

MP: भीषण गर्मी से भोपाल में जलसंकट, प्रशासन ने अपने कब्जे में किए सभी जलस्रोत

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को आने वाले दिनों में भीषण जलसंकट का सामना करना पड़ सकता है. भोपाल के कलेक्टर डॉक्टर सुदाम खाड़े ने भोपाल ज़िले को पेयजल अभावग्रस्त घोषित कर दिया है.

Advertisement
aajtak.in
रवीश पाल सिंह भोपाल, 25 May 2019
MP: भीषण गर्मी से भोपाल में जलसंकट, प्रशासन ने अपने कब्जे में किए सभी जलस्रोत जलसंकट

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को आने वाले दिनों में भीषण जलसंकट का सामना करना पड़ सकता है. भोपाल के कलेक्टर डॉक्टर सुदाम खाड़े ने भोपाल ज़िले को पेयजल अभावग्रस्त घोषित कर दिया है. इसके साथ ही कलेक्टर सुदाम खाड़े ने भोपाल ज़िले में जल स्त्रोतों का प्रशासन द्वारा अधिग्रहण करने के आदेश भी जारी कर दिए हैं.

कलेक्टर के मुताबिक, भोपाल में अच्छी बारिश होने तक या 15 जुलाई 2019 तक ये आदेश लागू रहेगा, जिसके बाद इसको आगे जारी रखने पर विचार किया जाएगा. कलेक्टर के आदेश के बाद अब सभी एसडीएम के पास ज़रूरत पड़ने पर निजी ट्यूबवेल, कुओं और अन्य जलस्रोतों का अधिग्रहण करने का अधिकार होगा.

इससे प्रशासन को भोपाल ज़िले के अंतर्गत पेयजल समस्या वाले गांव और कॉलोनियों में पानी उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी. निजी बोरवेल के अधिग्रहण से पीने के पानी की समस्या से जूझ रही जनता और मवेशियों को भी पानी उपलब्ध कराया जा सके इसके ध्यान रखा जाएगा.

MP में भीषण गर्मी का दौर जारी

मध्य प्रदेश में इन दिनों भीषण गर्मी का दौर जारी है. प्रदेश के ज्यादातर जिलों में गर्मी के दौरान अधिकतम तापमान 40 डिग्री के पार है, जिससे दिन के समय बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है. वहीं, रात को भी अधितकम तापमान बढ़ने से रातें भी काफी गर्म हैं. मौसम विभाग ने भी आने वाले दिनों में छतरपुर, दमोह, सागर और उमरिया समेत आस-पास के जिलों में लू चलने की संभावना जताई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay