एडवांस्ड सर्च

Berhampore Lok Sabha Chunav Result 2019: कांग्रेस के अधीर रंजन का जलवा कायम, TMC की अपूर्बा सरकार की हार

Lok Sabha Chunav Berhampore Result 2019 पश्चिम बंगाल की बहरामपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी अपना जलवा कायम रखते हुए जीत हासिल की है. उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के प्रत्याशी अपूर्बा सरकार को 80696 वोटों से हराया है. देखिए किस प्रत्याशी को कितने वोट मिले.

Advertisement
aajtak.in [Edited By:सना/अनुग्रह]नई दिल्ली, 25 May 2019
Berhampore Lok Sabha Chunav Result 2019: कांग्रेस के अधीर रंजन का जलवा कायम, TMC की अपूर्बा सरकार की हार Berhampore Lok Sabha Election Result 2019

पश्चिम बंगाल की बहरामपुर लोकसभा सीट पर 23 मई को मतगणना के बाद नतीजे घोषित हो गए हैं. इस सीट से कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी अपना जलवा कायम रखते हुए जीत हासिल की है. उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के प्रत्याशी अपूर्बा सरकार को 80696 वोटों से हराया है. देखिए किस प्रत्याशी को कितने वोट मिले.

behrampur_052419093011.jpgकिसको कितने वोट मिले

Lok Sabha Election Results LIVE: अबकी बार किसकी सरकार, पढ़ें पल-पल की अपडेट

कब और कितनी वोटिंग

इस सीट पर लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के तहत 29 अप्रैल को वोट डाले गए और कुल 79.41 फीसदी मतदान हुआ.

कौन-कौन उम्मीदवार

कांग्रेस ने बहरामपुर सीट पर एक बार फिर पिछला चुनाव जीत चुके सांसद अधीर रंजन चौधरी पर दांव खेला जबकि तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने अपूर्बा सरकार को चुनाव लड़ाया. रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी ने आईडी मौहम्मद को चुनाव मैदान में उतारा जबकि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने कुशधज बाला और शिवसेना ने आशीष सिंघा को मैदान में उतारा.

वहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कृष्णा को चुनावी रण में उतारा जबकि 2 निर्दलीय प्रत्याशी भी चुनाव लड़े. चुनावी राजनीति का इतिहास बताता है कि इस सीट पर वामपंथी दल रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला रहा.

West Bengal Election Results Live: पश्चिम बंगाल में कांटे की लड़ाई, पढ़ें पल-पल की अपडेट

2014 का जनादेश

2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने तृणमूल कांग्रेस के इंद्रनील सेन को हराया था. अधीर चौधरी को 5,83,549 वोट मिले थे जबकि इंद्रनील सेन को 2,26,982 को मिले थे वहीं रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के प्रमोथ्स मुखर्जी तीसरे स्थान पर रहे थे.

चौधरी ने यहां से 2004, 2009 और 2014 में लगातार 3 बार जीत दर्ज है. बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने पश्चिम बंगाल में 34 सीटें जीती थीं. जबकि 2 सीटों पर बीजेपी, 4 सीटों पर कांग्रेस और 2 सीटों पर सीपीएम को जीत मिली थी.

सामाजिक ताना-बाना  

जनगणना 2011 के मुताबिक बहरामपुर संसदीय क्षेत्र की कुल आबादी 22,61,093 है. इसमें 81.51% आबादी गांवों में रहती है जबकि 18.49% आबादी शहरी है. बहरामपुर की कुल आबादी में अनुसूचित जाति और जनजातियों का अनुपात 13 और 0.84 फीसदी है.

2017 के मतदाता सूची के अनुसार बहरामपुर संसदीय क्षेत्र में 1537932 मतदाता हैं जो 1836 मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकार का प्रयोग करते हैं. 2014 के आम चुनावों में इस सीट पर 79.43% मतदान हुआ था जबकि 2009 के चुनावों में यह आंकड़ा 80.7% था. बहरामपुर लोकसभा सीट के तहत सात विधानसभा सीटें आती हैं.

राजनीतिक पृष्ठभूमि

बहरहाल लोकसभा सीट पर पहले चुनाव 1952 में रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के त्रिदीब चौधरी चुनाव जीते थे. वह रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर लगातार 1957,1962, 1967, 1971, 1977 और 1980 तक लोकसभा सदस्य चुने जाते रहे.

इस सीट पर 1984 में कांग्रेस का खाता खुला और अतिश चंद्र सिन्हा जीतकर संसद पहुंचे. लेकिन 1989 में इस सीट पर फिर रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी ने वापसी की और उसके उम्मीदवार नानी भट्टाचार्य सांसद चुने गए.

नानी भट्टाचार्य ने 1991 के चुनावों में भी अपनी पार्टी के लिए जीत दर्ज करायी थी. 1994 में रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी ने प्रमोथ्स मुखर्जी को चुनाव मैदान में उतारा जो जीत हासिल करने में कामयाब रहे. प्रमोथ्स मुखर्जी 1996 और 1998 के आम चुनावों में जीत हासिल करने में कामयाब रहे.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पश्चिम बंगाल की राजनीति में दमखम रखने वाले अधीर रंजन चौधरी 1999 में इस सीट से मैदान में उतरे और चुनाव जीते. वह 2004, 2009 और 2014 में भी यहां से सांसद चुने गए थे.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay