एडवांस्ड सर्च

कमलनाथ ने विधानसभा तो बेटे नकुलनाथ ने लोकसभा के लिए किया नामांकन

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के बाद बीजेपी पर जबरदस्त पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि आयकर विभाग की छापेमारी में जिन लोगों के पास से नोट बरामद हुए हैं, वो लोग भारतीय जनता पार्टी से जुड़े थे.

Advertisement
रवीश पाल सिंह [Edited By: राम कृष्ण]भोपाल, 09 April 2019
कमलनाथ ने विधानसभा तो बेटे नकुलनाथ ने लोकसभा के लिए किया नामांकन कमलनाथ (फाइल फोटो- PTI)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ ने आयकर विभाग की छापेमारी को लेकर भारतीय जनता पार्टी पर बड़ा आरोप लगाया है. मध्य प्रदेश, गोवा और दिल्ली में पड़े आयकर विभाग के छापों पर आजतक से बात में कमलनाथ ने कहा कि इन छापेमारी में पकड़े गए नोट बीजेपी के नज़दीकी लोगों के हैं.

इससे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक जनसभा के दौरान मध्य प्रदेश, गोवा और दिल्ली में हुई आयकर विभाग की छापेमारी का जिक्र करते हुए कांग्रेस पर जमकर हल्ला बोला.

पीएम मोदी ने कहा, 'चौकीदार चोर है....चिल्लाने वालों के यहां से बक्से भरकर नोट निकल रहे हैं.' पीएम मोदी के इसी तंज पर नामांकन दाखिल करने के बाद कमलनाथ ने पलटवार किया. उन्होंने कहा, 'नोटों के बंडल किसके यहां से निकले हैं. आखिर कौन हैं, वो लोग? मैं तो यह पूछ रहा हूं? जहां से नोट निकले हैं, वो 15 साल से भारतीय जनता पार्टी से जुड़े थे. भारतीय जनता पार्टी से ही उन्होंने यह कमाई की है.'

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के बाद कमलनाथ ने बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने पूछा, 'भारतीय जनता पार्टी ये नोट कहां से ला रही है? आखिर ये नोट कहां से आए? कहां से ये चुनावी सभा हो रही है और कहां से ये झंडे आ रहे हैं? भारतीय जनता पार्टी को इन सबका जवाब देना चाहिए?

नकुलनाथ का दावा- 20 से ज्यादा सीटें जीतेगी कांग्रेस

कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ ने छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से नामांकन दाखिल करने के बाद दावा किया कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस इस बार 20 से ज्यादा सीटें जीतेगी. नकुलनाथ ने आजतक से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा, 'छिंदवाड़ा में सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी का है और मैं प्राथमिकता से बेरोजगारी की ओर ध्यान दूंगा. इसके अलावा छिंदवाड़ा में ज्यादा से ज्यादा नया निवेश आए, इस पर भी ध्यान दूंगा.'

नकुलनाथ ने खुद को छिंदवाड़ा का बेटा बताते हुए कहा, 'मेरा छिंदवाड़ा के लोगों के साथ 40 साल पुराना पारिवारिक रिश्ता है. मैं छिंदवाड़ा के लोगों का बेटा हूं और आज मैं दूसरा रिश्ता जोड़ने जा रहा हूं. यह नया रिश्ता राजनीतिक है. मुझे पूरी उम्मीद है कि जैसा प्यार और आशीर्वाद मुझे अब तक यहां के लोगों से मिलता रहा है, वैसा आगे भी मिलेगा.'

भावुक हुई नकुलनाथ की मां

नकुलनाथ ने नामांकन करने के बाद छिंदवाड़ा की जनता को संबोधित किया. इस दौरान मंच पर उनकी मां अलकनाथ और पिता कमलनाथ भी मौजूद थे. अपने बेटे नकुलनाथ को सियासी पारी का आगाज़ करते देख मां अलकनाथ भावुक हो गईं. उनकी आंखें नम हो गईं. यह नजारा कैमरों में भी कैद हो गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay