एडवांस्ड सर्च

लालू यादव की तबीयत में सुधार नहीं, भेजे जा सकते हैं दिल्ली, AIIMS में चलेगा इलाज

चिकित्सकों का कहना है कि लालू प्रसाद को होली के बाद बेहतर इलाज के लिए दिल्ली के एम्स भेजा जा सकता है. लालू प्रसाद की तबीयत पिछले कुछ समय से खराब चल रही है. लालू के परिजन भी उनके स्वास्थ्य को लेकर कई बार चिंता जता चुके हैं.

Advertisement
aajtak.in
सत्यजीत कुमार रांची, 16 February 2020
लालू यादव की तबीयत में सुधार नहीं, भेजे जा सकते हैं दिल्ली, AIIMS में चलेगा इलाज लालू यादव की तबीयत में सुधार नहीं

  • मेडिकल बोर्ड की टीम लालू की सेहत पर करेगी चर्चा
  • उन्हें दिल्ली भेजे जाने पर लिया जाएगा फैसला

चर्चित चारा घोटाले के कई मामलों में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद को इलाज के लिए रांची के रिम्स अस्पताल से दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) भेजा जा सकता है. लालू के इलाज में जुटे रिम्स के चिकित्सकों का कहना है कि वह किडनी सहित 15 गंभीर बीमारियों से ग्रस्त हैं.

शनिवार को लालू प्रसाद यादव का मेडिकल बुलिटिन  जारी किया गया था. मेडिकल बुलेटिन में कहा गया है कि लालू यादव की किडनी में सुधार नहीं दिख रहा है. लालू प्रसाद के डॉक्टर उमेश प्रसाद ने चिंता जताते हुए कहा, 'अभी उनकी किडनी 3b स्टेज में है. संभवत: होली के बाद मेडिकल बोर्ड का गठन किया जाएगा. जिसमें उनकी बीमारियों पर गहन अध्ययन किया जाएगा.

मेडिकल बोर्ड की टीम लालू की सेहत पर चर्चा करेगी और उसके बाद उन्हें दिल्ली भेजे जाने पर निर्णय लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि अगर वहां के चिकित्सक चाहेंगे तो इलाज में बदलाव भी कर सकते हैं.

वहीं उनके नियमित इलाज कर रहे डॉक्टर डीके झा ने कहा कि अभी पैनिक सिचुएशन नहीं है अभी उनकी किडनी की बीमारी स्टेज 3डी में है लेकिन एक बार सेकंड ओपिनियन के लिए AIIMS भेजने की सोच रहे हैं.

AIIMS देश का प्रीमियर मेडिकल संस्थान है, इसलिए वहां के डॉक्टरों की राय लेना उचित होगा.  

बता दें, लालू प्रसाद की तबीयत पिछले कुछ समय से खराब चल रही है. लालू के परिजन भी उनके स्वास्थ्य को लेकर कई बार चिंता जता चुके हैं.

और पढ़ें- चारा घोटाला: CBI की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने लालू यादव को भेजा नोटिस

बताया गया है कि लालू पहले से मधुमेह व दिल की बीमारी से ग्रसित हैं. लालू की किडनी 50 फीसदी ही कार्य कर रही है. लालू के परिवार की तरफ से उनके इलाज पर सवाल उठाया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay