एडवांस्ड सर्च

कश्मीरः अमरनाथ यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों से भरी बस पलटी, 2 घायल

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग से फिसलने की वजह से बस पलट गई. इसमें दो तीर्थ यात्री घायल हो गए जिन्हें समीप के अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

Advertisement
aajtak.in
वरुण शैलेश श्रीनगर, 07 July 2018
कश्मीरः अमरनाथ यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों से भरी बस पलटी, 2 घायल दुर्घटनाग्रस्त बस

अमरनाथ यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों को रोज-ब-रोज किसी न किसी समस्या से दो चार होना ही पड़ रहा है. शुक्रवार को अमरनाथ तीर्थ यात्रियों को ले जा रही एक बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई जिसमें दो लोग घायल हो गए. यह हादसा बालटाल बेस कैम्प से श्रीनगर की तरफ जाने के दौरान श्रीनगर-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुआ. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग से फिसलने की वजह से बस पलट गई. इसमें दो तीर्थ यात्री घायल हो गए जिन्हें समीप के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इससे पहले, दक्षिण कश्मीर में खराब मौसम के चलते अमरनाथ यात्रा को गुरुवार को जम्मू में स्थगित कर दिया गया था. अतिरिक्त जिलाधिकारी अरुण मन्हास ने बताया कि भगवती नगर यात्री निवास से अमरनाथ गुफा के लिए कोई यात्री रवाना नहीं हुआ.

उन्होंने बताया कि खराब मौसम के चलते (भगवतीनगर के) यात्री निवास से अमरनाथ यात्रा बालटाल और पहलगाम दोनों ही मार्गों से स्थगित रहेगी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि वैसे गुरुवार को 1978 यात्रियों के जत्थे को पहलगाम के लिए रवाना होने दिया गया. जत्थे को खराब मौसम के चलते उधमपुर में रोक लिया गया था.

बालटाल से अमरनाथ गुफा तक के रास्ते में तीन जुलाई को ब्रारीमार्ग-रेलपथरी खंड पर भूस्खलन के चलते तीन यात्री और एक सहायक की मृत्यु हो गई थी, जबकि सात अन्य घायल हो गये थे. बालटाल और पहलगाम दोनों मार्गों से बुधवार को भी यात्रा स्थगित थी क्योंकि रेलपथरी और ब्रारीमार्ग के बीच भूस्खलन हुआ था. वैसे दोनों मार्गों पर सीमित हेलीकॉप्टर सेवा चलती रही. यात्रा के सातवें दिन गुरुवार को 5,919 तीर्थयात्रियों ने दर्शन किए. अबतक 60,752 यात्री पवित्र शिवलिंग दर्शन कर चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay